रेलवे के बाद अब अंतर्राष्ट्रीय उड़ानों को लेकर सरकार ने लिया ये बड़ा फैसला, 15 जुलाई तक…

देश में कोरोना का कहर थम नहीं रहा है. हर दिन 15 हजार मामले सामने आने के बाद अब कोरोना के नए मामलों में और तेजी आई है. जिसके चलते सरकारों की नींद उड़ी हुई है. पिछले 24 घंटे में करीब 17 हजार नए मामले सामने आये हैं जिसके बाद देश में कोरोना के मरीजों की संख्या 4 लाख 85 हजार के पार हो गयी गई है. अगर यही हाल रहा तो आने वाले समय में भारत के लिए काफी मुश्किल हो सकती है. राहत की बात ये है कि हर दिन काफी संख्या में मरीज ठीक भी हो रहे हैं.

जानकारी के लिए बता दें कोरोना के लगातार बढ़ रहे प्रकोप के चलते भारतीय रेलवे ने अभी हाल ही में बड़ा फैसला लिया था. रेलवे ने ऐलान किया है कि 1 जुलाई से 12 अगस्त तक कोई भी रेगुलर ट्रेन नही चलेगी. जो स्पेशल ट्रेनें चल रही हैं उनका संचालन जारी रहेगा. रेलवे के इस कदम के बाद अब अंतर्राष्ट्रीय फ्लाइट को लेकर बड़ी खबर आ रही है. अब 15 जुलाई तक के लिए अंतर्राष्ट्रीय उड़ानों को भी रद्द कर दिया गया है.

नागरिक उड्डयन महानिदेशक द्वारा जारी एक सर्कुलर में कहा गया है कि भारत से अन्य देशों के लिए अंतर्राष्ट्रीय वाणिज्यिक यात्री सेवायें 15 जुलाई 2020 के 23:59 बजे तक निलंबित ही रहेंगी. वहीँ डीजीसीए की तरफ से ये भी साफ किया गया है कि यह रोक सभी अंतर्राष्ट्रीय कार्गो विमानों और डीजीसीए की ओर से अनुमति प्राप्त उड़ानों पर लागू नही किया जायेगा. डीजीसीए द्वारा कीच चुनिंदा रूटों पर उड़ानों को अनुमति दी जा सकती है.

गौरतलब है कि पिछले कई महीनों से देश में कोरोना वायरस की वजह से सब कुछ बंद पड़ा है. इस महामारी के चलते जन-जीवन अस्त व्यस्त हो गया है. सारे कामकाज ठप्प पड़े थे हालाँकि सरकार ने अब शर्तों के साथ ढील दी है. वहीँ सरकार इस महामारी के बीच भी वंदे भारत मिशन चला रही है. जिसके अंतर्गत सरकार अन्य देशों में फंसे भारतीयों को स्पेशल विमानों के संचालन से वापस ला रही है.



Advertisement