अमित शाह का राहुल गांधी पर वार, बोले कहो तो याद दिला दूं 1962 का वो दिन :

भारत और चीन के बीच हुए हिंसक झड़प के बाद भाजपा पर कांग्रेस का बार बार प्रहार हो रहा है।
कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से सवालों का पिटारा खोल रखा है, तथा बीजेपी पार्टी को बार-बार ने का गिराने का काम किया जा रहा है। न्यूज एजेंसी एएनआई से बात करते हुए अमित शाह ने इसी बात को लेकर राहुल गांधी पर निशाना साधा।अमित शाह ने कहा कि पार्लियामेंट होने जा रही है, चर्चा करनी है तो आइये। इस मुद्दे पर चर्चा करेंगे और 1962 से आज तक दो-दो हाथ हो जाएंगे।गृह मंत्री ने कहा कि राहुल गांधी एक छिछली सोच वाली राजनीति में शामिल हैं। अमित शाह ने कहा कि वह साफ करना चाहते हैं कि पीएम मोदी की अगुवाई में भारत कोरोना वायरस और चीन दोनों ही लड़ाई जीतने जा रहा है। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार कोरोना वायरस से बहुत अच्छे तरीके से लड़ रही है। राहुल गांधी को वह सलाह नहीं दे सकते क्योंकि यह उनके पार्टी के नेताओं का काम है। लेकिन कुछ लोगों की वक्रदृष्टि होती है वह हमेशा गलत ढूंढते हैं।
उन्होंने कहा कि इंदिरा गांधी के बाद गांधी परिवार के अलावा कोई भी कांग्रेस का अध्यक्ष नहीं रहा है।  ऐसे में वह किस लोकतंत्र की बात कर रहे हैं
 अमित शाह ने कहा कि उन्होंने कोरोना संकट के समय किसी भी तरह की राजनीति नहीं की। पिछले 10 सालों से वह 25 जून के दिन ट्वीट करते हैं। आपातकाल को हमेशा याद रखना चाहिए, क्योंकि इसने लोकंतत्र की जड़ों पर हमला किया था।

Advertisement