गलवान घाटी में 20 सैनिकों के श’हीद होने पर गृह मंत्री अमित शाह ने दिया बड़ा बयान

चीन और भारत के बीच लद्दाख बार्डर के पास गलवान घाटी पर काफी दिनो से तनातनी चल रही है. जिसको लेकर दोनो देशो के बीच कई दौर की बैठक हो चुकि है. लेकिन चीन अपने दो’गले रवैये से बाज़ नही आ रहा है. चीन के साथ बातचीत करने से भी कोई फायदा नही हुआ है. क्योकि चीन ने जो हरकत की है वो बर्दाशत करने लायक नही है. इसको लेकर  देश के गृह मंत्री अमित शाह ने भी शोक व्यक्त किया है.

गृह मंत्री अमित शाह ने ट्वीट कर के कहा है कि हमे अपने सैनिकों पर गर्व हैं. अपना देश इनकी शाहदत को हमेशा याद रखेगा. आगे उन्होंने कहा कि पूरा देश और केंद्र सरकार इनके परिवार के साथ हमेशा खड़ी रहेगी और उन्होंने कहा की जो भी सैनिक घायल हुए उनके लिए मैं प्राथन करता हूँ कि वो जल्द ही स्वस्थ हों.गृह मंत्री ने आगे अपने ट्वीट में कहा कि मुझे बहुत तकलीफ हो रही हैं उन जवानो के लिए जिन्होंने भारत माता की रक्षा करने के लिए अपने प्राण न्योछावर कर दिए. इस दर्द को मैं शब्दों में बयां नहीं कर सकता हूँ. आज पूरा देश इन जांबाज सैनिकों को सलाम करता हैं. जिन्होंने भारत की रक्षा करने के लिए अपनी जान गंवाई हैं.

लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (एलएसी) को लेकर सूत्रों का कहना है कि चीन से बातचीत करने का कोई असर नही पड़ा है. स्थिति अभी भी तना’वपूर्ण है. इसके बाद भारतीय सेना सिर्फ लद्दाख ही नही एलएसी के दूसरे हिस्सों में भी सेना अलर्ट मोड़ पर आ गई है.



Advertisement