शादी में आए 250 बराती, जांच के दौरान भरना पड़ा 6 लाख से ज्यादा जुर्माना:

यह घटना राजस्थान के भीलवाड़ा की है जहां पर मोहल्ले के राठी परिवार की ओर से 13 जून को एक शादी समारोह में कोविड-19 के नियमों का उल्लघंन करने से 15 लोग संक्रमित हो गए, एक की मौत हो गई एवं 58 व्यक्ति फेसेलिटी क्वारंटाइन में हैं।
जिसके बाद भीलवाड़ा तैनात कलेक्टर राजेंद्र भट्ट ने 6 लाख 26 हजार 600 रुपए के जुर्माने के आदेश के साथ तीन दिन में वसूली को भी कहा है।
देश में ऐसा पहली बार हुआ है जब शादी के बाद कोरोना मामले को लेकर इतना बड़ा जुर्माना भरना पड़ा है।
आपको बता दें कि इस घटना का पता यू चला के एक व्हाट्सएप के जरिए यह सूचना फैल रही थी कि भीलवाड़ा में एक शादी में प्रशासन से 50 व्यक्ति की अनुमति लेकर 250 लोगों को बुलाया। दूल्हे सहित एक दर्जन लोग पॉजिटिव निकले व 110 लोगों को आईसोलेशन में भेजा गया। जिला प्रशासन द्वारा आपदा प्रबंधन कानून धारा 51 व आम लोगों का जीवन खतरे में डालने के लिए भादंसं की धारा 188, 269, 270 व 271 में मुकदमा दर्ज किया।
इस शादी को लेकर कनार्टक के मुख्यमंत्री येदियुरप्पा ने इसका बचाव करते हुए इसे कोविड के नियमों का पालन करते हुए साधारण एवं सादगीपूर्ण तरीके से संपन्न होना बताया था। इस मामले में लोगों का मामला है कि इस तरह के बड़े मामलों में यदि कार्रवाई की जाती तो भीलवाड़ा जैसी घटना होती ही नहीं। इस तरह के सवालों का जवाब अभी आना शेष है।

Advertisement