चीन भारत के तनाव को कम करने के लिए, सीमा पर होगी प्रत्येक सप्ताह, भारत और चीन के बीच वार्तालाप:

भारत और चीन के बीच हुए हिंसक झड़प के बाद दोनों देशों में लगातार तनाव बढ़ते जा रहे हैं। तथा यह अतिथि युद्ध के कगार पर पहुंच चुकी है। लेकिन समाचार एजेंसी एएनआइ के मुताबिक, अब दोनों देशों के बीच बातचीत से विवाद सुलझाने पर सहमति बनी है। सूत्रों का कहना है कि एलएसी पर तनाव कम करने को लेकर तरीके खोजने के लिए अब भारत और चीन के बीच हर हफ्ते वर्किंग मैकेनिज्म फॉर कंसल्टेशन एंड कोर्डिनेशन (Working Mechanism for Consultation and Coordination, WMCC) स्‍तर की बातचीत होगी। यह बैठक वर्चुअल होगी जिसमें भारतीय पक्ष से विदेश मंत्रालय, रक्षा मंत्रालय, गृह मंत्रालय और सुरक्षा बलों समेत कई मंत्रालयों के प्रतिनिधि शामिल होंगे।
इस बातचीत के दौरान चीन के उन आरोपों को भी खारिज कर दिया गया जिसमें नेपाल के साथ सीमाई मसले को उठाते हुए भारत को विस्‍तारवादी देश बताया गया था। दरअसल, चीन पहले भी झूठे आरोप लगाकर अपने मंसूबों को कामयाब बनाने की कोशिशें करता रहा है लेकिन इस बार उसकी हर कोशिश बेकार जा रही है। यही वजह है कि बौखलाया चीन उलझने की नित नई तरकीबें निकाल रहा है। भारत ने इस बार बिल्‍कुल साफ कर दिया है कि एलएसी पर जब तक पूर्व की स्थिति बहाल नहीं हो जाती वह चीन को चैन नहीं लेने देगा।

Advertisement