भारतीय उच्चायोग के कर्मियों का बयान, पाकिस्तान पुलिस ने रॉड से पीटा और पिलाया गंदा पानी:

यह घटना पाकिस्तान के भारतीय दूतावास के दो कर्मियों की है जिन्हें सुबह 8:30 बजे लगभग पकड़ लिया था अपहरण कर लिया था। बयान मैं यह सामने आया कि अपहरणकर्ता 5-6 गाड़ियों से आवास के पास आए और जबरन गाड़ी में बैठा कर वहां से रवाना हो गए।
उनके आंखों पर पटिया बांधी गई और अज्ञात जगह पर ले जाकर रॉड से पीटा गया। उन्होंने बताया कि उनके ऊपर बहुत अमानवीय सुलूक हुआ और उनके बारे में तथा उनके काम के बारे में लगभग 6 घंटे तक पूछताछ की गई
हालांकि भारत के विरोध के बाद दोनों सदस्यों को रिहा कर दिया गया है. मगर इस बीच उनके साथ बुरे बर्ताव की खबर आ रही है। बताया जाता है कि दोनों सदस्यों को करीब 12 घंटे तक हिरासत में रखा गया।
मामले से जुड़े लोगों का कहना है कि दोनों की गर्दन, चेहरे और जांघ पर जख्मों के निशान हैं जिससे पता चलता है कि उनके साथ दुर्व्यवहार किया गया। हालांकि मेडिकल जांच में अबतक किसी ऐसे गहरे जख्म का खुलासा नहीं हुआ है जिससे पता चलता हो कि उनकी जान का खतरा है। इस्लामाबाद पुलिस की FIR के मुताबिक, दोनों सदस्यों की कार के अंदर 10 हजार का पाकिस्तानी जाली नोट पाए गए थे। भारतीय दूतावास के अधिकारियों ने ऐसी खबर का खंडन किया था।

Advertisement