रेलवे अब स्टेशनों पर लगाएगा ऐसे कैमरे जो यात्री के सामने आते ही बता देगा ये चीजें !

देश में कोरोना से लड़ाई लड़ने भारतीय रेलवे हर महत्वपूर्ण भूमिका अदा कर रहा है. इस महामारी के बीच रेलवे के काम की जितनी तारीफ़ की जाए कम है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सत्ता में आने के बाद से ही रेलवे में सुधार को लेकर एक के बाद एक बड़े कदम उठाए गये हैं. इतना ही नहीं यात्रियों की सुविधा को देखते हुए रेलवे शानदार काम कर रहा है. ताकि लोगों को समस्या का सामना न करना पड़े.

जानकारी के लिए बता दें सरकार के तमाम प्रयासों के बाद भी देश में कोरोना की रफ़्तार थम नहीं रही है. हर दिन 15 हजार से ज्यादा मरीज सामने आ रहे हैं, जोकि सरकार के लिए बड़ी चुनौती बनता जा रहा है. भारत में तेजी से बढ़ते आंकड़ों के बाद देश में कुल मरीजों की संख्या 4 लाख 85 हजार के पार हो गयी है. वहीँ सैंकड़ों लोग हर दिन अपनी जान दे रहे हैं. इस महामारी को रोकना और इससे बचना इस समय हर किसी के लिए सबसे बड़ी चुनौती है. ऐसे में सरकार लगातार कदम उठा रही है.

भारतीय रेलवे ने अब कोरोना के मरीजों को पहचानने के लिए बड़ा फैसला लिया है. अब स्टेशनों पर आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस कैमरा लगायेगा जोकि फोटो की मदद से ही स्टेशन परिसर में घुसने वाले हर शख्स का बॉडी टेंपरेचर माप लेगा और कोरोना के लक्षण बता देगा. साथ ही वो कैमरा ये भी बतायेगा कि किस शख्स ने मास्क पहना है या नही. रेलवे ने इस काम के लिए 800 कैमरा खरीदने का टेंडर जारी कर दिया है.

गौरतलब है कि रेलवे ने ऐसी महामारी के समय में भी अन्य राज्यों में फंसे प्रवासी मजदूरों को उनके घर तक पहुंचाया है. वहीँ कोरोना के लक्षणों का पता करने वाले इस कैमरे की कीमत 4 लाख रुय्ये है. रेलवे अपने यात्रियों की स्वास्थ्य सुविधाओं का भी पूरा ध्यान रखा है. इतना ही नहीं रेलवे ने कोच को ही आइसोलेशन वार्ड बनाकर तैयार कर दिया था. वहीँ दूसरी ओर लगातार कोरोना के कहर के चलते रेलवे ने 12 अगस्त तक रेगुलर ट्रेनों को चलाने का फैसला भी लिया है.



Advertisement