बॉर्डर पर तनाव झेल रहे लद्दाख में आई एक और आफत, भूकंप के झटकों से सहमा लद्दाख

बॉर्डर पर चीन के साथ तनाव झेल रहे लद्दाख में एक और आफत आई. शुक्रवार शाम भूकंप के झटकों से लद्दाख हिल उठा. रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 4.5 थी. इसका केंद्र जमीन से 25 किलोमीटर नीचे था इसलिए जानमाल का कोई नुकसान नहीं हुआ. भूकंप का केंद्र लद्दाख था. शुक्रवार देर शाम 8 बजकर 15 मिनट पर भूकंप के झटके महसूस किए गए.

आज भूकंप के झटके सिर्फ लद्दाख में ही महसूस नहीं किये गए बल्कि मेघालय के तुरा और हरियाणा के रोहतक में भी भूकंप के झटके महसूस किए गए. पिछले कुछ महीनों से देश के अलग अलग हिस्सों में लगातार भूकंप के झटके महसूस किये जा रहे हैं. दिल्ली-एनसीआर में तो पिछले 2 महीनों में अनगिनत बार भूकंप के झटके आ चुके हैं. लगातार आते झटकों से देश में दहशत का माहौल है.

शुक्रवार को हरियाणा के रोहतक व आस-पास के क्षेत्र में भू भूकंप के झटके महसूस किये गए. दोपहर 3 बजकर 32 मिनट पर आये इस भूकंप की तीव्रता 2.8 रही. भूकंप का केंद्र रोहतक में जमीन से 9 किलोमीटर अंदर था. तीव्रता कम थी इसलिए लोगों को झटके ज्यादा महसूस नहीं हुए. इससे पहले रोहतक में बुधवार को भी भूकंप के झटके महसूस किये गए थे जिसकी तीव्रता 2.8 थी. भूकंप का केंद्र रोहतक में जमीन से 5 किलोमीटर अंदर था. पूर्वोत्तर के मेघालय और मिजोरम में भी भूकंप के झटके लगातार महसूस किये जा रहे हैं.



Advertisement