"मन की बात" में पीएम का बयान, भारत देश जिस प्रकार दोस्ती करना जानता है, उसी प्रकार दुश्मनों का आंख निकालना भी जानता है:

मन की बात के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारतीय जनता को संबोधित करते हुए कहा कि देशवासियों को किसी प्रकार की चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है। देश किसी भी प्रकार की आपदा को सहन करने तथा उसके बदले जवाब देने की क्षमता रखता है। उन्होंने कहां के भारत किसी से डर की दोस्ती का हाथ नहीं बढ़ाता वह सिर्फ शांति चाहता है इसका मतलब यह नहीं कि वह किसी से डरता है।दुश्मनों की आंख निकाल लेने की क्षमता रखने की इच्छा है भारत में,
पीएम मोदी ने कहा कि अगर आप लोकल के लिए वोकल होंगे तो समझिएगा कि आप देश को मजबूत करने में अपनी मदद कर रहे हैं। पीएम ने अपने संदेश में आत्मनिर्भर भारत से लेकर लद्दाख सीमा विवाद तक कई मुद्दों पर बात की।
पीएम मोदी ने अपने संदेश में पूर्व प्रधानमंत्री पीवी नरसिम्हा राव के योगदान को भी याद किया उन्होंने कहा कि वे एक बहुमुखी प्रतिभा के व्यक्ति थे.

Advertisement