देश के तीनों सेनाओं के सुप्रीम कमांडर ने बलिदान सैनिकों पर बोलि यह बड़ी बात:

पूर्वी लद्दाख के गलवान घाटी में बीते सोमवार को हुए भारत और चीन के बीच हिंसक झड़प में भारत के वीर जवान शहीद हो गए और लगभग 135 जवान घायल हो गए। तथा चीन के तरफ से 43 जवान मैं अपनी जान गवाई है। इसके दौरान राजनीतिक स्तर पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह सीडीएस प्रमुख बिपिन रावत तथा तीनों सेनाओं के प्रमुख एक साथ बैठकर इन स्थितियों में बात कर रहे हैं।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रपति श्रीरामनाथ कोविंद ने एक साथ मिलकर शहीद सैनिकों को भावपूर्ण श्रद्धांजलि दी है।
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा, 'सशस्त्र बलों के सुप्रीम कमांडर के रूप में मैं देश की संप्रभुता अखंडता की रक्षा के लिए हमारे सैनिकों के अनुकरणीय साहस सर्वोच्च बलिदान को नमन करता हूं।
गलवान में अपनी जान की बाजी लगाने वाले सभी लोगों ने भारतीय सशस्त्र बल की परंपराओं को बरकरार रखा है।

As Supreme Commander of Armed Forces, I bow to exemplary courage&supreme sacrifice of our soldiers to protect sovereignty&integrity of country. All those who laid down their lives in have upheld the best traditions of Indian armed forces: President Ram Nath Kovind

Advertisement