गलवान घाटी में हुई खु’नी जं’ग के बाद, भारत इस तरीके से दे रहा चीन को मात

चीन ने भारत पर हम’ला कर के ठीक नहीं किया हैं. क्योकि अब भारत चीन को हर तरह से बाहर का रास्ता दिखाना शुरू कर दिया हैं. ये कई महीने पहले ही शुरू हो चूका हैं. जबसे चीन ने कोरोना वायरस को देश में फैलाया है तबसे लोगों ने चीन बायकाट करना शुर कर दिया था. चीन को अब भारत सैन्य के आलावा आर्थिक रूप से भी घेरने की तैयारी में हैं.

कल जो भी लद्दाख बॉर्डर पर हुआ उसके बाद से कुछ लोगों ने तो देश के अंदर अपने मोबाइल फ़ोन और टीवी जो चीनी प्रोडक्ट है. उनको तोडना शुरू कर दिया है. सोशल मीडिया पर ऐसे वीडियोज खूब शेयर हो रहे. दूसरी तरफ, भारत में चीन के कौन-कौन से प्रॉडक्‍ट्स मिलते हैं, ये पता लगाने के लिए गूगल का इस्‍तेमाल हो रहा है. पिछले 48 घंटों में गूगल पर ‘List of chinese products in India’, ‘ban chinese products’ और ‘boycott chinese products’ जैसे सर्च बढ़े हैं. लोग सर्च करके देख रहें है कि कौन से प्रोडक्ट चाइना के हैं.

भारत के अंदर चाइनीज ऐप जैसे की टिक टॉक, UC Browser, Shareit जैसी बहुत सी ऐप भारतीय लोग यूज़ करते हैं. लेकिन लद्दाख बॉर्डर पर 20 जवानो के शहीद होने के बाद से लोगों ने इन एप्स को भी फ़ोन से अनइंस्टाल करना शुरू कर दिया है. कुछ दिन पहले भी भारत में टिक टॉक की रेटिंग काफी गिर गई थी. क्योकि भारतियों ने इस ऐप को अपने मोबाइल फ़ोन से हटाना शुरू कर दिया था.चीन की इस हरकत के बाद से देश में कुछ लोगों का कहना है कि भारत सरकार ही चीनी एप्स पर पाबन्दी लगा दें. भारत के लोगों ने चीन को उनकी औकात दिखने के अब ये तरीका अपनाया है. भारत के अंदर टेलिकॉम कंपनी में यूज़ होने वाले प्रोडक्ट पर भारत सरकार ने पाबन्दी लगा दी है. इससे चीन को आर्थिक रूप से काफी नुकशान झेलना पड़ेगा.



Advertisement