नरेंद्र मोदी का बयान यह राज्य अगर दे दे साथ तो करोना को कर सकते हैं जड़ से खत्म:

देश में बढ़ते कुरौना की महामारी से देश के कुछ हिस्से अत्यंत प्रभावित हैं बीते मंगलवार को करो ना बीमारी से बीमार होने वालों की संख्या 3,43,090 तक पहुंच गए हैं। इसमें से आधे से अधिक बीमार मात्र सिर्फ कुछ महानगरों के हैंदिल्ली मुंबई अहमदाबाद ऐसे कुछ महानगर हैं जहां पर को रोना की लहर बहुत ही तेजी के साथ बढ़ रही है। इसके साथ देखा जाए तोदूसरी तरफ बेंगलुरु और हैदराबाद ऐसा महानगर है जहां पर कोरूणा की संख्या ने अभी हाजार भी पार नहीं किया है। इस घटना को देखकर हम जा कर सकते हैं कि कोरोना की बीमारी से अगर हम थोड़ी सी की आदत बढ़ते तो छुटकारा भी पा सकते हैं।इतनी ज्यादा जनसंख्या बेंगलुरु में होने के बावजूद भी उसने कुरोना जैसी महामारी पर नियंत्रण रखा हुआ।
देश में करुणा के कुल मरीज 3,43,090 तक पहुंच गए हैं। इसमें से 9900 लोगों की मौत हो गई है। अभी तक 180012 लोग ठीक होने के बाद डिस्चार्ज भी किए जा चुके हैं और कुल 153178 लोगों का इलाज देश के अलग-अलग अस्पतालों में चल रहा है। इसमें से कुछ लोग ऐसे भी हैं, जो होम क्वारंटीन में ही इलाज करवा रहे हैं। देश में कोरोना से रिकवरी का रेट अब 52.47 पर्सेंट है।
दो महानगर दिल्ली और मुंबई में कुरौना ने इतना आतंक मचा रखा है कि इन दोनों को मिलाकर एक लाख से ज्यादा मामले देखने को मिले हैं।और कुल मौतों की संख्या लगभग चार हजार के करीब है।
दिल्ली में सोमवार तक कुल मरीजों की संख्या 42829 थी, जिसमें से 16427 मरीज ठीक हो चुके थे और 1400 की मौत हो चुकी है। वहीं मुंबई में कुल मरीजों की संख्या 59293 है, जिसमें से 2250 की मौत हुई है और कुल 30125 ठीक होकर डिस्चार्ज हुए हैं।
अहमदाबाद रोना के मामले में आ गया है यहां पर प्रतिदिन करुणा के मामले बढ़ते जा रहे हैं।

Advertisement