भारत चीन के विवाद के बीच अब एमपी भाजपा अध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा ने कमलनाथ को लेकर किया ये बड़ा खुलासा !

राजीव गाँधी फाउंडेशन की नींव 21 जून 1991 को सोनिया गांधी ने रखी थी. सोनिया गाँधी इस फाउंडेशन की चेयरपर्सन हैं. पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के अलावा राहुल गांधी, प्रियंका गांधी और पी. चिदंबरम ट्रस्टी हैं. केन्द्रीय क़ानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने ये खुलासा किया था कि राजीव गाँधी फाउंडेशन को चीन की एम्बेसी से डोनेशन मिला था. जिसके बाद सियासी पारा चढ़ गया. नड्डा ने 2005-2006 और 2007-2008 में राजीव गांधी फाउंडेशन को दान देने वालों की लिस्ट शेयर की हैं, इनमें प्रधानमंत्री नेशनल रिलीफ फंड का भी नाम है.

जानकारी के लिए बता दें भारत चीन के बीच चल रहे इस विवाद के बीच कांग्रेस लगातार सरकार पर निशाना साध रही थी लेकिन इस समय वो खुद बैकफुट पर आ गयी है और एक के बाद बड़े खुलासे कांग्रेस को लेकर हो रहे हैं. केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद के खुलासे के बाद बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने यूपीए के समय प्रधानमंत्री नेशनल रिलीफ फंड (पीएमएनआरएफ) का पैसा राजीव गांधी फाउंडेशन (आरजीएफ) को दिया गया था. उनके इस खुलासे के बाद अब मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ को लेकर भी बड़ी बात सामने आई है.

दरअसल मध्यप्रदेश बीजेपी के अध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा ने मीडिया के सामने आरोप लगाते हुए कहा है कि कमल नाथ ने केंद्रीय मंत्री रहते हुए राजीव गाँधी फाउंडेशन को चीनी मदद दिलाई. इसके लिए उन्होंने अपने अधिकारों का भी दुरपयोग किया. उनके इस खुलासे के बाद अब कांग्रेस में हलचल मच गयी है. भाजपा देश के साथ गद्दारी की इस हरकत के विरोध में कमलनाथ के खिलाफ जन जागरण अभियान चलाने का फैसला किया है.

गौरतलब है कि pmcares फंड का हिसाब मांगने और आरोप लगाने वाली कांग्रेस की हालत अब खुद बिगड़ गयी है. भाजपा के लगातार इन खुलासों के बाद कांग्रेस नेताओं का कोई जवाब नहीं आ रहा है. कांग्रेस की मुसीबतें लगातार बढ़ती जा रही हैं.



Advertisement