चीन से तनाव के बाद भारत के साथ आया ये बड़ा देश, दोनों सेनाओं ने किया युद्धाभ्यास

भारत और चीन के बीच चल रहें सीमा वि’वाद को लेकर खू’नी झड़’प हुए थी और वहां पर भारतीय सेना के 20 जवान भी श’हीद हुए थे और चीन के भी 40 से ज्यादा जवान को भारतीय जांबाजों ने मा’र गिराया था. उसके बाद से भारत के अंदर चीन को लेकर काफी गुस्सा भरा हुआ है और चीन के साथ साथ उसके सामान का भी बहिष्का’र करना लोगों ने शुरू कर दिया हैं.

भारत और चीन के बढ़ते तना’व के बाद भारत के साथ और भी कई देश साथ खड़े  हो गए है. इस कड़ी में जापान भी है. क्योकि पूर्वी चीन सागर में द्वीपों को लेकर ड्रैगन का जापान से भी वि’वाद है. इस बीच भारतीय और जापानी नौसेना  ने हिंद महासागर में चीन के बढ़ते ख’तरों से निपटने के लिए संयुक्त युद्धाभ्यास किया है. जापानी नौसेना ने ट्वीट किया कि ‘27 जून को जापान मैरिटाइम सेल्फ डिफेंस फोर्स के JS KASHIMA और JS SHIMAYUKI ने भारतीय नौसेना के आईएनएस राणा और आईएनएस कुलीश के साथ हिंद महासागर में एक अभ्यास किया. इसके जरिए जापान मैरिटाइम सेल्फ डिफेंस फोर्स ने भारतीय नौसेना के साथ अपने समझ और सहयोग को बढ़ाया.

चीन और जापान में पूर्वी चीन सागर में स्थित द्वीपों को लेकर आपस में वि’वाद है. दोनों देश इन निर्जन द्वीपों पर अपना दावा करते हैं. जिन्हें जापान में सेनकाकु और चीन में डियाओस के नाम से जाना जाता है. इन द्वीपों का प्रशासन 1972 से जापान के हाथों में है. वहीं, चीन का दावा है कि ये द्वीप उसके अधिकार क्षेत्र में आते हैं और जापान को अपना दावा छोड़ देना चाहिए. वैसे चीन सभी के साथ यही राग अलापता रहता है. उसको लगता है की जहाँ जहाँ वि’वाद है वहां पर चीन का ही छेत्र है और दुसरे देश को उसको छोड़ देना चाहिए.



Advertisement