भारत चीन सीमा विवाद पर अमेरिका वाइट हाउस के प्रेस सेक्रेटरी का बयान अमेरिका की कोई मध्यस्थता नहीं:

भारत चीन की सीमा विवाद पर हुए आपसी झड़प में भारत के एक अधिकारी सहित 20 सेनाओ ने अपना खून देश के लिए कुर्बान कर दिया दरअसल चीन के किए हुए धोखे पर भारत पहले से तैयार नहीं था।
इसके बाद अमेरिका के व्हइट हाउस press secretary से भारत और चीन के आपसी विवाद पर सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि इसमें उनकी कोई मध्यस्थता नहीं है।
आपको बता दें किअमेरिका के एक विदेश प्रवक्ता ने बताया था कि चीन और भारत के बीच हुई झड़प में अमेरिका पैनी नजर बनाए हुए हैं।पर इसके बाद वाइट हाउस की प्रेस सेक्रेट्री केयलेग मैकएनी से सवाल किया गया था कि क्या अमेरिकी राष्ट्रपति भारत-चीन के बीच मध्यस्थता करेंगे? इस पर केयलेग मैकएनी ने कहा, "इस पर कोई औपचारिक योजना नहीं है."
प्रवक्ता ने कहा, ''भारतीय सेना ने घोषणा की है कि उसके 20 सैनिक मारे गए हैं। हम उनके परिजन के प्रति संवेदना व्यक्त करते हैं.'' इसके साथ ही उन्होंने कहा कि भारत और चीन दोनों ही देशों ने तनाव कम करने की इच्छा जताई है और अमेरिका वर्तमान हालात के शांतिपूर्ण समाधान का समर्थन करता है।

Advertisement