भारत में वायु सेना की पूर्ण तैयारी, आदेश मिलते हैं चीन को कर सकते हैं पूरी तरह बर्बाद: आइए बता दे आखिर क्या है योजना:

पूर्वी लद्दाख के गलवान घाटी पर भारत और चीन के बीच हुए हिंसक झड़प के बाद दोनों देशों के बीच लगातार तनाव बढ़ते जा रहे हैं तथा हालात इस जगह पहुंच गई है कि दोनों देशों में युद्ध का भी सहारा लेना पड़ सकता है। युद्ध के प्रति भारत के तीनों सेनाओं जल नव तथा वायु पूरी तरह से तैयार हो चुकी हैं।
दोनों देशों के बीच बढ़ते तनाव को देखकर तीनों सेनाओं ने अपने सभी सैनिकों को वापस बुला लिया है तथा उनकी छुट्टियां 2 महीने तक रद्द कर दी हैं। , लद्दाख में लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल पर के अलावा भारतीय-चीन सीमा के पूरे इलाके की निगरानी कर रही है, जब से भारत और चीन के बीच गतिरोध शुरू हुआ है, भारतीय वायुसेना अपनी क्षमताओं को बढ़ा रही है।
आपको बता दें कि भारतीय वायुसेना इस तरह तैयार है कि सिर्फ आदेश मिलते हैं 8 मिनट में चीन की धज्जियां उड़ा सकती हैं।
हालांकि, भारत के पक्ष में प्रमुख बात यह है कि भारतीय लड़ाकू जेट अधिक ऊंचाई वाले क्षेत्र में युद्ध करने में सक्षण हैं, जबकि चीनी एयरफोर्स को अधिक ऊंचाई वाले क्षेत्र में युद्ध करने का अनुभव नहीं है। भारतीय वायु सेना के पास सुखोई, मिराज, जगुआर, मिग विमान हैं जो चीनी विमानों को रौंद सकते हैं। इसके अलावा चीन अपने फायदे के लिए पाकिस्तान के स्कार्दू एयरबेस का इस्तेमाल करने की कोशिश कर रहा है, लेकिन वहां के 2 हवाई जहाजों में से केवल 1 ही सक्रिय है।

Advertisement