भारत ने लगाई चीन के टायरों के इंपोर्ट पर पाबंदी, अब चीन आएगा अपनी औकात में:

भारत ने चीन से आने वाले रबड़ के टायरों की इंपोर्ट पर  पाबंदी लगा दी है। इससे 20 देशों से भारत में आने वाले टायर पर असर पड़ेगा जिनमें थाईलैंड और चाइना से आने वाले टायर भी शामिल हैं. पाबंदी के तहत इंपोर्टर के लिए लाइसेंस लेना अनिवार्य होगा, इसके बिना टायर ला नहीं पाएंगे।
जिन टायरों पर पाबंदी लगी है उनमें मोटरकार, रेसिंग कार, कार, बस, मोटरसाइकिल और साइकिल शामिल है. हालांकि इसमें ट्रक के टायर शामिल नहीं है. टायर मार्केट एक्सपर्ट विपिन कुमार कहते हैं "चाइना के पास ऐसे कौन से रिसोर्सेस है जो इंडिया के पास नहीं है।
हम चाहते हैं कि इंडिया के पास भी वही फैसेलिटीज होनी चाहिए, ताकि प्रोडक्ट तो उनका आए लेकिन बिके नहीं. इतनी कैपेबिलिटी हमारे में होनी चाहिए. यह जो मोदी जी ने फैसला लिया है इससे हमारी इंडस्ट्री को टाइम मिलेगा कंपीट करने के लिए, बेहतर बनाने के लिए ,चाइना से बेहतर बनाने के लिए. अभी तो यह होता है कोई भी आदमी इंपोर्टर बनता है. लाया मार्केट में फेंक दिया, ज्यादा टेंशन नहीं है, पर अब लाइसेंस पॉलिसी लागू हो गई तो रेस्ट्रिक्टेड होगा, कम आना शुरू होगा तो हो सकता है वह भी वही प्राइस पर पहुंचे जहां इंडियन प्राइज है तो ज्यादा बेहतर होगा।

Advertisement