आकाशीय बिजली बनी मौत का फरमान, बिहार में 15 दिनों के अंदर हुई 170 लोगों की मौत, खबर विस्तार से:

जिस प्रकार से देश मे कोरोना ने अपना आतंक मच्या है,और इस बीमारी के चलते पता नहीं कितने लोगों की जान चली गई। उसी प्रकार इस वर्ष बरसात के मौसम में अकाशी बिजली लोगों की मौत का कारण बनती जा रही है। आपको बता दें कि अभी तक बिहार में आकाशीय बिजली के चलते 170 लोगों की मौत हो चुकी है।
इस घटना के पश्चात मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मृतकों के परिजनों को चार-चार लाख रुपये अनुग्रह अनुदान देने के निर्देश दिए हैं।

आपदा प्रबंधन विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि गुरुवार को वज्रपात से भोजपुर में दो, मुंगेर में दो तथा सुपौल, कैमूर और बांका में एक-एक व्यक्ति की मौत हो गई है।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इन घटनाओं पर गहरी शोक संवेदना व्यक्त की है।

मुख्यमंत्री ने लोगों से अपील की है कि सभी लोग खराब मौसम में पूरी सतर्कता बरतें। खराब मौसम होने पर वज्रपात से बचाव के लिए आपदा प्रबंधन विभाग द्वारा समय-समय पर जारी किए गए सुझावों का अनुपालन करें। खराब मौसम में घरों में रहें और सुरक्षित रहें।

उल्लेखनीय है कि पिछले 15 दिनों में राज्य में 170 से ज्यादा लोगों की मौत वज्रपात की चपेट में आने से हुई है

Advertisement