आजमगढ़ जेल में बंद 1791 बंदी डर के मारे सहमे, वजह जानकर रोंगेटे हो जाएंगे खड़े

आजमगढ़. जिले में लगातार कहर बरपा रहा कोरोना का संक्रमण अब जिला जेल तक पहुंच गया है। जिला जेल में निरुद्ध एक बंदी और ड्युटी कर रहे एक होमगार्ड के संक्रमित मिलने के बाद हड़कंप की स्थिति है। जेल में बंद 1791 बंदी सहमे हुए है। वहीं प्रशासन जेल में संक्रमण का प्रसार न हो इसके लिए जद्दोजहद में जुटा है। माना जा रहा है कि सभी बंदियों की जांच करायी जाएगी।

जिला कारागार आजमगढ़ की क्षमता 1240 बंदियों की है। वर्तमान में यहां 1791 बंदी निरुद्ध हैं जो जेल की क्षमता से 551 अधिक है। कोरोना संक्रमण काल में जिला कारागार के बाहर स्थित नागालिग जेल में अस्थाई जेल की व्यवस्था की गई है। यहां पहले कैदियों को क्वारंटाइन किया जाता है। इसके बाद उन्हें जिला जेल के अंदर प्रवेश दिया जाता है। पिछले दिनों यूपी के अन्य जेलों में कोरोना संक्रमण मिलने के बाद यहां के 10 बंदियों और 10 स्टाफ की कोरोना संक्रमण के जांच के लिए सैंपल भेजा गा था। मंगलवार को एक बंदी और एक होमगार्ड की रिपोर्ट कोरोना पाजिटिव आयी। इसके बाद जेल में हड़कंप मच गया। रिपोर्ट के संबंध में जानकारी होने के बाद बंदी सहमें हुए हैं।

जेल अधीक्षक आरके मिश्रा ने बताया कि पहले क्लोज कांटैक्ट में आने वाले लोगों की जांच कराई जाएगी। इसके बाद सभी बंदियों और स्टाफ की सैंपलिंग कराई जाएगी। हमारा प्रयास होगा कि सभी बंदियों की जांच करायी जाय। ताकि किसी तरह का संशय अथवा खतरा न हो।



Advertisement