25 लाख की नकली दवाई पकड़ने पर टीम पर हमला. दो ड्रग इंस्पेक्टर घायल, गाड़ी में की तोड़फोड़

मेरठ। नकली दवाइयों की सूचना पर छापेमारी के लिए गई एफएसडीए टीम पर आरोपियों ने हमला कर दिया। जिसमें दो ड्रग इंस्पेक्टर घायल हो गए। हमले में आरोपियों ने गाड़ी को भी पथराव कर क्षतिग्रस्त कर दिया। एफएसडीए यानी खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन को छापेमारी में 25 लाख की नकली दवा बरामद हुई है। दरअसल, बुधवार को खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन (एफएसडीए) की संयुक्त टीम ने जिले में कई जगहों पर छापा मारा।

यह भी पढ़ें: क्राइम कैपिटल कहे जाने वाले मुजफ्फरनगर में पुलिस बदमाशों के बीच मुठभेड़, एक काे गाेली लगी

इस दौरान टीम को भारी मात्रा में नकली दवाइयां मिली। जिनको जब्त कर लिया गया। छापेमारी के दौरान एक स्थान पर टीम पर हमला बोल दिया। जिसमें टीम में शामिल दो ड्रग इंस्पेक्टर घायल हो गए और गाड़ी में भी तोड़फोड़ कर दी गई। एफएसडीए की ओर से आरोपियों के खिलाफ थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई गई है। एफएसडीए की टीम ने थाना लिसाड़ीगेट क्षेत्र अंतर्गत स्टेट बैंक कॉलोनी के सामने अफसर अली पुत्र असलम के घर पर छापा मारा। इस दौरान अफसर के घर से नकली दवाइयां बरामद की गई।

यह भी पढें: सहारनपुर में एक ही दिन में थाना प्रभारी समेत 59 नए मामले सामने आए

पूछताछ में आरोपी अफसर से मिली सूचना के बाद टीम मुस्तकीम के घर पहुंची। टीम ने यहां से करीब पांच लाख की नकली दवाइयां बरामद की। इस दौरान मुस्तकीम ने एक अन्य व्यक्ति आदिल के बारे में जानकारी दी। टीम ने आदिल के घर पर भी छापा मारा। आदिल के घर से 12 लाख की नकली औषधियां बरामद की गई है। सभी दवाइयां नकली थी और इनकी कीमत भी करीब 25 लाख बैठ रही थी। टीम ने मौके पर ही सभी नकली दवाइयों के नमूने लेकर जांच के लिए भेज दिए। इसी दौरान आदिल ने छापेमारी का विरोध करते हुए टीम पर हमला कर दिया। जिसमें टीम में शामिल दो ड्रग इस्पेक्टर घायल हो गए। वहीं भीड़ ने टीम की गाड़ी को भी क्षतिग्रस्त कर दिया। थाने पर टीम के ऊपर हमला करने की जानकारी दी गई। जिस पर मौके पर काफी संख्या में फोर्स पहुंच गया। पुलिस ने आरोपी केा गिरफ्तार कर लिया। एफएसडीए टीम की ओर से आरोपी के खिलाफ लिसाड़ीगेट थाने में रिपोर्ट कराई गई है।

लिसाड़ीगेट थाने की पुलिस ने तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तार किए गए तीनों आरोपियों से पूछताछ की जा रही है। पुलिस यह पता लगाने में जुटी है कि इनके संपर्क में और कितने लोग इस काम को कर रहे हैं। सीओ कोतवाली दिनेश शुक्ला का कहना है कि मामला जानकारी में आया है। स्वास्थ्य विभाग की ड्रग्स टीम पर हमला किया गया है। टीम की ओर से तहरीर आई है। तहरीर के आधार पर कार्रवाई की जा रही है। तीन लोगों को थाना पुलिस ने गिरफ्तार किया है। आरोपियों से पूछताछ की जा रही है।



Advertisement