वराणासी में 32 पुलिसवालों को हुआ कोरोना, पुलिस लाइंस सील, रिटायर आयकर अधिकारी समेत दो की मौत

वाराणसी. प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में कोरोना से एक ही दिन में दो मौतों के साथ मारने वालों का आंकड़ा 33 तक पहुंच गया। रविवार को सुबह बड़ागांव की 80 साल की महिला की निजी अस्पताल में मौत हो गई तो देर रात 63 वर्षीय रिटायर आयकर अधिकारी ने बीएचयू में दम तोड़ दिया। सोनभद्र से तीन साल पहले रिटायर आयकर अधिकारी वाराणसी के पांडेयपुर आरती नगर में रहते थे। उनकी तबीयत खराब होने पर उन्हें बीएचयू अस्पताल में भर्ती कराया गया था। बड़ागांव की महिला बुखार के साथ साँस फूलने की दिक्कत के बाद निजी अस्पताल में भर्ती करायी गयी थी।

 

कोरोना मरीज़ों के लिए 15 अतिरिक्त एंबुलेंस

रविवार को 65 और कोरोना पॉज़िटिव पेशेंट सामने आए इनमें अकेले 32 पुलिसवाले कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। एंटीजेन किट से जांच में रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद सभी के सैंपल दोबारा जांच के लिए लैब में भेजे गए थे, जहां रिपोर्ट आने के बाद इनके पॉज़िटिव होने की पुष्टि हुई। इसके साथ ही बनारस में कोरोना संक्रमितों की तादाद बढ़कर 1271 पहुंच गयी है। 537 मरीज ठीक हो चुके हैं, जबकि 702 एक्टिव संक्रमित हैं। ठीक एक दिन पहले रिकॉर्ड 88 मरीज़ सामने आए थे। मरीज़ों की बढ़ती तादाद को देखते हुए इन्हें अस्पताल पहुंचाने के लिये प्रशासन ने 15 अतिरिक्त एंबुलेंस लगाईं। इसके साथ ही अब 24 सामान्य और एक एडवांस लाइफ सपोर्ट एम्बुलेंस चलायी जा रही हैं।

 

 

पुलिस लाइंस सील, एसएसपी ने किया निरीक्षण

32 पुलिसवालों को कोरोना पॉज़िटिव होने की खबर के बाद हड़कंप मच गया। कोतवाली थाने पर तैनात दो दर्जन से अधिक पुलिसवालों के कोरोना संक्रमित होने के बाद एसएसपी अमित पाठक ने वाराणसी की पुलिस लाइंस को सील करा दिया। आम लोगों के लिये वहां इंट्री बैन कर दी गई। एसएसपी ने रविवार को पुलिस लाइंस का निरीक्षण भी किया। जो 32 पुलिस वाले कोरोना संक्रमित पाए गए हैं उनमें 30 पुलिसकर्मी कोतवाली के बैरक में रहने वाले, जबकि एक-एक कैंट और लंका के हैं। कैंट वाला कांस्टेबल भी कोतवाली की बैरक में रहता था, जबकि लंका थाने का सिपाही मौर्या लाज छित्तूपुर लंका पर रहता है। इनके अलावा 33 अन्य भी कोरोना पाये गए हैं।

 

दुकानों का लेफ्ट राइट नियम बदला

उधर वाराणसी में दुकानों के खुलने के नियम में भी बदलाव कर दिया गया है। सोमवार से दुकानों के खुलने का लेफ्ट राइट नियम उल्टा कर दिया गया। इसके बाद दो दिन खुलने वाली दुकानें तीन और तीन दिन खुलने वाली दुकानें अब दो दिन खुलेंगी। इसके हिसाब से जिस लाइन की दुकानें सोमवार, बुधवार, शुक्रवार को खुलती हैं वह मंगलवार और बृहस्पतिवार को खुलेंगी, जबकि जो मंगलवार और बृहस्पतिवार को खुलने वाली लाइन सोमवार, बुधवार, शुक्रवार को खुलेगी। शनिवार और रविवार को आवश्यक सेवाओं को छोड़कर पूर्णत: बन्दी।

 

बिना काम निकले तो पेड क्वारंटीन

डीएम ने कहा है सोमवार से बिना मास्क निकलने वालों पर जुर्माने लगाया जाएगा और बिना काम घर से निकलने, गलियों में घूमने और खेलते हुए पाए जाने वालों को पकड़कर क्वारंटीन कर उसका पूरा खर्च उन्हीं से वसूल किया जाएगा। उन्होंने बताया है कि सब्जी और दूध मंडियां पूर्व निर्धारित समय पर ही खुलेंगी और बंद होंगी। दवा की दुकान किसी हॉस्पिटल में अथवा नर्सिंग होम में होगी तो ऐसी दुकान 24 घंटे खुली रह सकती है।



Advertisement