पत्रकार हत्या मामले में सीएम योगी ने लिया संज्ञान, मृतक की पत्नी को सरकारी नौकरी और बच्चों को निशुल्क शिक्षा का ऐलान

लखनऊ. गाजियाबाद में मारे गए पत्रकार विक्रम जोशी की हत्या ने आक्रोश पैदा कर दिया है। राजनीतिक गलियारों में योगी सरकार में हो रही हत्याओं पर सवाल खड़ा कर दिया है। उधर, इस मामले में संज्ञान लेते हुए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (UP CM Yogi Adityanath) परिवार को 10 लाख की आर्थिक सहायता देने का ऐलान किया है। साथ ही विक्रम की पत्नी को सरकारी नौकरी और बच्चों को निशुल्क शिक्षा देने की बात कही है।

पत्रकार विक्रम जोशी सोमवार को जब अपने दो बेटियों के साथ जा रहे थे, तभी उनकी बाइक को रोककर उनके साथ मारपीट की। आरोपियों में से एक रवि ने विक्रम जोशी के सिर में गोली मार दी थी जिसके बाद घायल विक्रम को गाजियाबाद के योशोदा अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां उनकी हालत गंभीर बनी हुई थी। बुधवार सुबह उन्होंने अस्पताल में ही दम तोड़ दिया। जिसके बाद परिजनों से न्याय न मिलने तक पत्रकार के शव का अंतिम संस्कार करने से मना कर दिया था। हत्या का कारण 16 जुलाई को विक्रम की भांजी के साथ हुई छेड़छाड़ की शिकायत पुलिस में करना है।

चौकी इंचार्ज सस्पेंड

इस मामले में पुलिस ने मुख्य आरोपी समेत नौ को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपियों से घटना में प्रयुक्त तमंचा भी बरामद किया है। वहीं, छेड़छाड़ के मामले में शिकायत मिलने के बावजूद कार्रवाई न करने वाले प्रताप विहार चौकी इंचार्ज राघवेंद्र सिंह को एसएसपी ने सस्पेंड कर दिया है।

ये भी पढ़ें: घर की दीवार पर प्लास्टर को लेकर विवाद में हुई मारपीट में सेना के जवान के पिता की हुई हत्या



Advertisement