पत्नी के कारनामे के कारण एक महीने बाद कब्र से निकालना पड़ा पति का शव, जानिए क्यों

मुजफ्फरनगर। परिजनों की शिकायत पर जिला प्रशासन ने मजिस्ट्रेट की देख रेख में मृतक के शव को कब्र से निकलवा कर पंचनामाभर पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। मृतक के परिजनों ने मृतक की पत्नी पर दूसरे लोगों से मिलकर उसकी हत्या करने का आरोप लगाते हुए कार्रवाई की मांग की थी। दरअसल, मामला थाना नगर कोतवाली क्षेत्र का है। जहां गत 25 जून को मोहल्ला जामिया नगर निवासी के नासिर की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी। जिसके बाद उसका अंतिम संस्कार भी कर दिया गया था।

यह भी पढ़ें: बिजली के करंट की चपेट में आने से पति-पत्नी की दर्दनाक मौत, परिवार में मचा हाहाकार

मृतक के परिजनों ने नासिर की पत्नी के अवैध सम्बन्धों के चलते हत्या करने के शक में नगर कोतवाली में मृतक की पत्नी फराना और तीन अन्य पर हत्या का मुकदमा दर्ज कराया है। जिसके चलते जिला प्रशासन और कोतवाली पुलिस ने मजिस्ट्रेट की देखरेख में मृतक नासिर के शव को कब्र से निकलवा कर पंचनामा भर पोस्मार्टम के लिए भिजवाया है। जिससे हत्या या आत्महत्या की इस अनसुलझी पहेली को सुलझाया जा सके।

यह भी पढ़ें: नोटबंदी के बाद जिस व्यापारी से मिली थी 25 करोड़ की पुरानी करेंसी, वह निकला कोरोना पॉजिटिव

मृतक नासिर के भाई आरिफ़ की मानें तो मृतक नासिर अपनी पत्नी और बच्चो के साथ मोहल्ला जामिया नगर में ही अपने परिजनों से अलग रहता था। बीती 25 जून की सुबह नासिर की फांसी लगाने की सूचना के बाद मोहल्ले में कोहराम मच गया था। मगर बताया जा रहा है कि लेकिन मृतक नासिर के गले पर फाँसी के फंदे का कोई निशान ना होने और मृतक की पत्नी के अवैध सम्बन्धों के शक के आधार पर मृतक के परिजनों ने हत्या करने का आरोप लगाते हुए मृतक की पत्नी और तीन अन्य लोगो पर हत्या का मुकदमा दर्ज कराया है। जिसके आधार पर जिला प्रशासन ने मृतक के शव को कब्र से निकलवाकर पोस्मार्टम के लिए भिजवा दिया है।



Advertisement