लेह लद्दाख का वो क्षेत्र जहाँ से चीन और पाकिस्तान को सबक सिखा सकती है भारतीय सेना

भारत और चीन के बीच लेह लद्दाख की सीमा को लेकर तनाव बना हुआ है. जिसकी वजह से कुछ दिनों पहले ही दोनों देशों के सैनिकों के बीच हिंस’क झ’ड़प हो गयी. जिसमें चीन ने धोखे से भारत के जवानो के ऊपर हम’ला बोल दिया एयर इस दौरान भात के एक अफसर सहित 20 जवान शही’द हो गए. इस घटना के बाद से देश के अंदर चीन को लेकर काफी गुस्सा देखने को मिल रहा है. वही इन सब के बीच आज देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी लेह लद्दाख के दौरे पर पहुंचे है.

जहाँ पर उन्होंने जवानो का हौसला बढ़ाया है. साथ ही बता दें पीएम नरेन्द्र मोदी लेह लद्दाख के जिस क्षेत्र पर पहुंचे है. वो लद्दाख की ऐसी जगह है जहाँ से भारतीय सेना चीन और पाकिस्तान दोनों को ही सबक सिखाने में सक्षम है. दरअसल हम बात कर रहे है नीमूफॉरवर्ड पोस्ट की. ये वो जगह है जो भारत के लिए रणनीतिक तौर पर काफी अहम है. इसके अलावा इस क्षेत्र में कारगिल यु’द्ध के बाद भारतीय सेना ने अपना सैन्य बेस बनाया है जहाँ से भारतीय सेना पाकिस्तान और चीन दोनों को सब’क सिखा सकता है.

इसके अलावा इस समय लेह सैन्य मुख्यालय की चौदहवीं कॉर्प्स के तहत यहां पर दो सैन्य बेस हैं. एक लेह में है दूसरा नीमू में. इसी जगह से सियाचिन के ऑप’रेशंस चलते हैं. यहीं से भारतीय सेना सियाचिन पर नजर रखती है. इसके अलावा नीमू लेह का ख़ास हिस्सा है जहाँ से भारतीय सेना कई इलाकों पर अपनी सीधी नजर रख सकती है. गौरतलब है भारतीय सेना के पास लेह का ऐसा ख़ास क्षेत्र है जहाँ से दु’श्मन देशों को सबक सिखाना आसन है



Advertisement