अयोध्या पांच अगस्त को दुल्हन की तरह सजाई जाएगी, दीवारों पर उकेरे जा रहे रामायण प्रसंग को श्रद्धालु बस निहारते रहेंगे

अयोध्या. अयोध्या में पांच अगस्त को राममंदिर के शिलान्यास और भूमिपूजन के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रामलला की नगरी में साकेत महाविद्यालय में हेलिकॉप्टर से आएंगे। लोक निर्माण विभाग साकेत महाविद्यालय के परिसर में तीन हेलीपैड बना रहा है। सही मायनों में आयोजन की तैयारियों ने जोर पकड़ लिया है। अयोध्या प्रशासन ने अपनी मुश्कें कस ली है। हैलीपेड से जब प्रधानमंत्री मोदी का काफिला रामजन्मभूमि स्थल की तरफ बढ़ेगा तो सड़क के दोनों तरफ की दीवारें पीले रंग से रंगी होंगी। और इन दीवारों पर रामचरितमानस के पात्रों के खूबसूरत प्रसंग उकेरे जा रहा है। तीन किलोमीटर तक दोनों तरफ इस काम की जिम्मेदार अयोध्या नगर निगम के पास है वह इस काम को बेहद बखूबी से कर रहा है।

अयोध्या के सूचना उपनिदेशक मुरलीधर सिंह ने बताया कि भगवान राम और सीता दोनों के आदमकद रेखाचित्र साकेत महाविद्यालय में हेलीपैड पर बन रहे हैं, वहीं रामायण के पात्रों के चित्र सड़कों के दोनों ओर बनी दीवारों इस सफाई से बनाए जा रहे है कि जो भी देखेगा वह उसे निहारता रह जाएगा।

सड़क किनारे विक्रेताओं और दुकानदारों ने प्रधानमंत्री के काफिले को स्वतंत्रतापूवर्क जाने पर अपनी सहमति जताई है। प्रधानमंत्री हनुमानगढ़ी मंदिर भी जाएंगे और वहां जाने वाली सड़कों पर बनी इमारतों को साफ किया जा रहा है। पांच अगस्त को प्रधानमंत्री मोदी के अयोध्या में इस्तकबाल करने के लिए पूरे शहर को दुल्हन की तरह सजाया जा रहा है। उस दिन सड़कों और मंदिरों को फूलों से सजाया जाएगा। सरयू नदी के किनारे और शहर के विभिन्न मंदिरों में एक लाख से अधिक मिट्टी के दीपक जलाए जाएंगे। भूमि पूजन के बाद मंदिर प्रशासन भक्तों को प्रसाद बांटेगा, जिसके लिए करीब एक लाख पैकेट लड्डू के आर्डर दिए जा चुके हैं।



Advertisement