एमपी के गवर्नर रहे लालजी टंडन के निधन पर यूपी में तीन दिन का राजकीय शोक

लखनऊ. मध्य प्रदेश के राज्यपाल और बीजेपी के संकटमोचक नेता कहे जाने वाले लालजी टंडन (Lalji Tondon) का मंगलवार सुबह निधन हो गया। उनके निधन पर तमाम राजनीतिक हस्तियों ने शोक व्यक्त किया है। वहीं, यूपी सरकार ने तीन दिन का राजकीय शोक घोषित किया है। लालजी टंडन को यूरीन में प्रॉब्लम के चलते लखनऊ के मेदांता में भर्ती किया गया था। करीब एक माह के इलाज के बाद मंगलवार सुबह 5.30 बजे के करीब उनका निधन हो गया।

11 जून से थे भर्ती

लालजी टंडन 11 जून से मेदांता में भर्ती थे। लम्बी बीमारी के कारण कोमोबिर्टीज और न्यूरो मस्कुलर कमजोरी के कारण वह बाई-रेप वेंटिलेटर को बर्दाश्त नहीं कर पा रहे थे। इस बीच कई बार उनकी तबियत बिगड़ी। सोमवार शाम को दोबारा तबीयत बिगड़ने पर उन्हें ट्रेकोस्टॉमी के माध्यम से फिर क्रिटिकल केयर वेंटिलेटर पर लिया गया है। बीच बीच में उनकी हालत में सुधार सूचनाएं भी मिलती रही हैं। मंगलवार सुबह उनका अस्पताल में निधन हो गया।

अंतिम यात्रा

अंतिम दर्शन सुबह: 10 बजे से 12 बजे तक कोठी नं 9 त्रिलोकनाथ रोड, हजरतगंज पर।

दोपहर 12 बजे से अपने निवास 64, सोंधी टोला, चौक, लखनऊ पर होंगे ।

अंतिम यात्रा 4 बजे गुलाला घाट,चौक, के लिए प्रस्थान करेगी।

ये भी पढ़ें: UP Top 10 News:आईआरसीटीसी के मेन्यू में शामिल हो सकता है काढ़ा, चाय की जगह पर होगा सर्व



Advertisement