आत्महत्या : "मै सुशांत नहीं जो प्रूफ नहीं छोडूंगा, मुझे ऋषि ने आत्महत्या के लिए मजबूर किया" कह कर अपने सर पर चला दी बन्दूक

"मै सुशांत नहीं हूँ।  सुशांत ने कोई प्रूफ नहीं छोड़ा। मै अपने परिवार को छोड़कर खुश नहीं हूँ पर मै मर रहा हूँ ऋषि ने मुझे मरने के लिए मजबूर किया है मै सुसाइड करता नहीं।" इन अंतिम शब्दों के अलावा कुछ और भी बातें अपने और नौकरी से निकले जाने की परेशानी के बारे में साबू ने फेसबुक पर लाइव आकर कहा और कुछ ही देर में साबू ने अपनी बन्दूक से सर पर गोली मार कर आत्महत्या कर ली।  उक्त घटना गुरूवार देर रात हूडा पार्क की है जहाँ नौकरी से निकले जाने से परेशान 38 वर्षीया साबू अपने घर से देर रात  ग्यारह बजे पिस्टल लेकर हूडा पार्क पहुंचा और फेसबुक लाइव पर आकर उसने बताया की  ऋषि नाम का व्यक्ति उसकी नौकरी से निकाले जाने और और आत्महत्या करने के लिए मजबूर करने के लिए जिम्मेदार है साथ ही उसने कहा की मै  सुशांत नहीं हूँ सुशांत ने कोई प्रूफ नहीं छोड़ा मै मर रहा हूँ और मुझे मरना है मै अपने परिवार और बच्चों को छोड़कर खुश नहीं हूँ अस्पताल प्रबंधन ने मेरे परेशान  होने पर कभी मेरी परेशानी नहीं पूछी बस ऋषि से बैठा कर बात करा दी मुझे निकलने के बाद भी ऋषि काम कर रहा है मै अस्पताल को अपने मा बाप से बढ़ कर मानता था मगर ऐसा नहीं था ऋषि बड़ी बड़ी बातें कर रहा है मैंने दादरी ट्रांसफर की भी मांग की मेरी आत्मा सर आपको झिंझोड़ेगी मेरे बच्चों को संभाल लेना ऋषि ने मुझे मरने के लिए मज़बूर किया है मै सुसाइड करता नहीं" इतना कहने के बाद साबू ने लाये हुए अपने लाइसेंसी पिस्टल से  अपने सर में गोली मार ली।  फेसबुक लाइव आने के बाद साबू के परिजनों को अनहोनी की आशंका हुई तो उसके परिजन हूडा पार्क पहुंचे। जहाँ साबू मृत पड़ा था।  साबू के पिता की तहरीर पर पुलिस ने ऋषि नाम के व्यक्ति के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।

Advertisement