विकास से पूछताछ में उजागर होती आपराधिक राजनेताओं की सांठगांठ, नाटकीय एनकाउंटर के कारण गिरफ़्तारी से बचे कई हाई प्रोफाइल- प्रकाश सिंह पूर्व डीजीपी यूपी

कुख्यात अपराधी विकास के बयान लिखित व मौखिक बयान लेने के पहले ही मुठभेड़ में मारे जाने को केरल के पूर्व डीजीपी एनसी स्थाना ने समाज के लिए बहुत ही दुर्भाग्य पूर्ण बताया है साथ ही उत्तर प्रदेश के पूर्व डीजीपी प्रकाश सिंह ने भी इस घटना को निराश करने वाला और दुर्भाग्यपूर्ण बताया है।  पूर्व डीजीपी प्रकाश सिंह ने कहा "यह दुर्भाग्यपूर्ण है क्यों की दुबे की पूछताछ से आपराधिक राजनेता की सांठगांठ को उजागर करने में मदद मिलती निराश हूँ क्यों की इसी तरह से किसी हाई प्रोफाइल को हिरासत में नहीं लिया जाता है" प्रकाश सिंह को  सर्वोच्च न्यायलय में जनहित याचिका दायर करके देश भर में हुए ढेरों पुलिस सुधारों के लिए भी जाना जाता है।  प्रकाश ने ये भी बताया की मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सरकार में फास्ट्रैक अदालत के जरिये जल्द से जल्द विकास को उसके अंजाम तक पहुंचा के समाज में न्यायिक प्रक्रिया का एक अच्छा उदहारण भी स्थापित किया जा सकता था।  

Advertisement