मिस्र की आखिरी रानी क्लिोयोपेट्रा कि मम्मी की हुई खोज, सबसे बड़ी खोज से आश्चर्य में है दुनिया ,पढ़े विस्तार से:

दुनिया में हमेशा ऐसी चीजों का खोज होता है, जिसको देखने के बाद सबको हैरान कर देता है, ठीक इसी तरह मिस्र कि सभ्यता की आखिरी रानी क्लिोयोपेट्रा कि मम्मी का खोज हुआ है। 2,000 साल पहले क्लिोयोपेट्रा (Cleopatra) को आत्महत्या के बाद यहां दफना दिया गया होगा। मिस्त्र के मंदिर में इस 'सनसनीखेज' खोज के बाद पुरातत्वविद लंबे समय से क्लिोयोपेट्रा के खोए हुए मकबरे की खोज के करीब हैं।

मिस्र की आखिरी रानी और दुनिया की सबसे खूबसूरत महिलाओं में शुमार क्लिोपेट्रा, इतिहास की सबसे लोकप्रिय महिला शासक है, लेकिन इसके अंतिम संस्कार को लेकर आज भी रहस्य कायम है।

कुछ जानकार मानते हैं कि दुनिया की सबसे खूबसूरत महिलाओं में शुमार रानी क्लिोयोपेट्रा को एलेक्जेन्ड्रीया (Alexendria) में दफनाया गया, जहां वह पैदा हुई और उसने राज किया।

इस खोज को 'सनसनीखेज' माना जा रहा है क्योंकि यह तपोसिरिस में नेक्रोपोलिस या 'मृतकों के शहर' ( City of the dead) के महत्व को दर्शाती है. पानी लगने की वजह से यह ममियां खराब स्थिति में हैं, लेकिन सुबूत दर्शाते हैं कि इन्हें सोने के वर्क (Gold Foil) में लपेटा गया होगा. यही तत्थ इस बात को साबित करने के लिए काफी है कि यह समाज के महत्वपूर्ण व्यक्ति रहे होंगे.

ममियों के एक्सरे से पता चला कि यह एक महिला व एक पुरूष हैं, और यह समझा जा रहा है कि यह वही पुजारी या पादरी हैं जिन्होंने रानी को शासन करने में मदद की। एक ममी के सोने के वर्क पर पुर्नजन्म (Re-birth) के प्रतीक झिंगूर को बनाया गया है. तपोसिरिस में खुदाई पिछले 14 साल से जारी थी और इसे डॉ. कैथलीन मार्टिनेज की देखरेख में किया जा रहा था।

कैथलीन कहती हैं कि नई खोज के बाद उन्हें यकीन है कि क्लिोयोपेट्रा को मंदिर में दफनाया गया होगा. यह भी सुझाया गया कि दो मुख्य पुजारियों या पादरियों ने रानी के साथ बातचीत भी की होगी। क्लिोयोपेट्रा के मकबरे की खोज जारी है। ऐसा माना जाता है कि तपोसिरिस में अभी तक सिर्फ पांच प्रतिशत से भी कम खुदाई हुई है. बता दें कि क्लिोपेट्रा-VII (Cleopatra-VII) 70 या 69 बी.सी. (B.C.) में पैदा हुई और उसने सह-राज्य संरक्षक के रूप में करीब 30 साल तक राज किया। उसने रोम के शासक जुलियस सीजर (Julius Caesar) से विवाह किया था।

Advertisement