पुलिस के दंगा नियंत्रक वाहन ने साइकिल सवार व्यापारी को कुचला, हंगामा

मेरठ ( meerut news) नौचंदी थाना क्षेत्र में सूरजकुुंड पार्क के पास गुरुवार देर शाम पुलिस ( Meerut Police) के दंगा नियंत्रक वाहन ने साइकिल सवार को जोरदार टक्कर मार दी। प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि पुलिस का वाहन साइकिल सवार को काफी दूरी तक घिसटते हुए ले गया।

यह भी पढ़ें: लव जिहाद का केंद्र बना मेरठ: अमित बनकर ‘शमशाद’ ने प्रिया से रचाई शादी, राज खुला तो बेडरूम से निकले दो नर कंकाल

इस दुर्घटना में साइकिल सवार की माैत हाे गई जिससे गुस्सूसाए लाेगाें ने सूरजकुुंड मार्केट में पुलिस वाहन को घेर लिया और पुलिसकर्मियों के साथ जमकर मारपीट की। लोगों का आरोप है कि चालक समेत अन्य पुलिसकर्मियों ने भी शराब पी रखी थी। आक्रोशित लोगों ने दंगा नियंत्रक वाहन में भी तोड़फोड़ कर दी। स्थिति बिगड़ने पर अन्य थानों की फोर्स भी मौके पर बुलानी पड़ी इसके बाद मामला शांत हाे सका।

यह भी पढ़ें: ईद से पहले गौकशों पर कसा शिकंजा, पुलिस ने तीन आरोपियों का किया बुरा हाल

घटना शाम करीब सात बजे सूरजकुंड पार्क के पास हुई। 55 वर्षीय किशन लाल गुप्ता साइकिल से घर लाैट रहे थे। प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि किशन लाल अपनी साइड पर थे, तभी पीछे से आ रहे पुलिस के दंगा नियंत्रक वाहन ने उन्हें जोरदार टक्कर मारी। टक्कर लगने के बाद वह काफी दूर तक घिसटते हुए चले गए। वहां मौजूद लोगों ने वाहन में फंसे किशन लाल को निकाला। इस दुर्घटना से आक्रोशित लोगों ने वाहन को घेर लिया और पुलिसकर्मियों से धक्का-मुक्की कर दी।

यह भी पढ़ें: हाईवे पर खून से लाल हुई सड़क, दो बाइक सवारों की गई जान, दिखा खौफनाक मंजर

आरोप है कि पुलिस का वाहन चालक नशे में धुत था।,साथ ही इसमें बैठे अन्य पुलिसकर्मियें ने भी शराब पी रखी थी। लोगों को जब इस बात का पता चला ताे उन्हाेंने हंगामा खड़ा कर दिया। चालक समेत अन्य पुलिसकर्मियों के साथ जमकर मारपीट कर दी और दंगा नियंत्रक वाहन में भी तोड़फोड़ कर डाली। हालत इतने बिगड़ गए कि अन्य थानों की पुलिस बुलानी पड़ी। इसी बीच घायल किशनलाल को अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई। इसके बाद लोगों का गुस्सा और भड़क गया। बाद में पुलिस फोर्स ने गुस्साए लोगों को शांत किया। घायल पुलिसकर्मियों को भी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

यह भी पढ़ें: online class : बच्चे की पढ़ाई के लिए गरीब पिता ने कर्ज पर खरीदा मोबाइल फोन

एसपी सिटी डा. एएन सिंह ने बताया कि पूरी घटना की जांच की जा रही है। जो भी दोषी होगा उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। पुलिसकर्मियों का मेडिकल कराया जाएगा। शराब पीने के आरोपों की भी जांच करवाई जाएगी।



Advertisement