आत्महत्या: माता-पिता आर्थिक तंगी के चलते नहीं भेज पा रहे थे नर्स की ट्रेनिंग के लिए, युवती ने किया आत्महत्या


                   आर्थिक रूप से कमजोर मा बाप पैसों की तंगी के चलते निशा (18) को नर्स के ट्रेनिंग के लिए नहीं भेज पा रहे थे। फिर परेशान निशा ने आत्महत्या को ही अपना आखिरी रास्ता समझ अपनी जिंदगी ख़तम कर ली। घटना सिरमौर जिले के उपमंडल शिलाई स्थित गांव कांडो की है। जहां 18 वर्षीय निशा बारहवी पास करने के बाद नर्स की ट्रेनिंग करना चाहती थी। लेकिन आर्थिक तंगी और परिवार की बदहाली के चलते निशा के माता पिता उसे नर्स की ट्रेनिंग के लिए नहीं भेज पा रहे थे। अंततः निशा ने आर्थिक तंगी से और नर्स की ट्रेनिंग ना कर सकने से परेशान होकर अपने घर में ही फंदा लगा कर आत्महत्या कर लिया।

Advertisement