कुख्यात अपराधी विकास दुबे के पिता का बयान, पुलिस नहीं कोर्ट तय करेगी गुनहगार कौन

                       कानपुर में हुए विकास दुबे और स्थानीय पुलिस के बीच हुए मुठभेड़ के बाद जब पुलिस घर में घुसी तो विकास के पिता रामकुमार हाल में एक बेड पर लेते हुए थे. पुलिस ने उनसे बात करनी चाही लेकिन पिता रामकुमार दुबे ने कुछ ही बोलने में असमर्थता व्यक्त की लेकिन जब आदेशानुसार पुलिस द्वारा विकास दुबे का घर गिराया जा रहा था तब विकास के पिता ने कहा की विकास को फसाया जा रहा है और गुनहगार कौन है यह न्यायलय तय करेगा पुलिस नहीं.उनके अनुसार विकास की कोई अल्टी यही थी उल्टा पुलिस वालों ने दबिश देकर बवाल मचाया. इस पर पुलिस ने आठ पुलिस अफसरों के शहीद होने की बात कही तो विकास के पिता का कहना था की विकास घटनास्थल पर मौजूद ही नहीं था. लेकिन बाद में विकास  के पिता इ कहा की विकास घर पर ही था .लेकिन पुलिस पर हुए गोलीबारी में नहीं शामिल था. विकास के पिता इसी तरह अपने बयानों को बदल बदल कर  विकास का बचाव कर रहे थे. विकास के पिता के ऐसे बयानों और व्यहार पर पुलिस अधिकारीयों का कहना था इसी वजह से विकास शुरू से ही बेअंदाज रहा और उसका मन बढ़ता गया अंततः उसने इस वारदात को अंजाम दे डाला.

Advertisement