"पुलिसकर्मियों को मार दो वरना मैं तुम्हें मार दूंगा" यह अल्फाज थे बदमाश विकास दुबे का, पकड़े गए एक साथ ही ने दिया बयान, पढ़े विस्तार से:

उत्तर प्रदेश के कानपुर में हुए बदमाशों और पुलिसकर्मियों के बीच मुठभेड़ के दौरान 8 पुलिसकर्मी शहीद हो गए थे तथा 7 पुलिसकर्मी घायल बताए जा रहे थे आपको बता दें कि इस घटना का मुख्य आरोपी विकास दुबे को उज्जैन से कानपुर लाते वक्त अचानक गाड़ी पलट जाने के कारण वह अपनी जान बचाकर भागने के दौरान पुलिस के एनकाउंटर में मारा गया।
इस घटना के पश्चात 50000 का इनामी बदमाश शशिकांत को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। आपको बता दें कि पुलिस को बयान देते हुए शशिकांत ने बताया कि विकास दुबे ने हर किसी को कहा था कि आज इन्हें मारना है क्योंकि पुलिस से सूचना आई थी कि इन पुलिस वालों को खत्म करना है। गौरतलब है कि शशिकांत के घर में सीओ समेत दो दारोगा को गोलियों को भून दिया गया था. इस पूरे हत्याकांड में 8 पुलिसवालों को मौत के घाट उतारा गया था।
शशिकांत ने गोली चलाने वाले नामों का भी खुलासा किया उसने बताया कि इस घटना को अंजाम देने में विकास दुबे, अमर दुबे, प्रभात मिश्रा, बऊआ, अतुल दुबे, प्रेम प्रकाश और शशिकांत के अलावा कई लोग शामिल थे. साथ ही उसने बताया कि विकास दुबे ने हर किसी को धमकी दी थी कि अगर इन पुलिस वालों पर गोली नहीं चलाई तो वो सबको मार डालेगा।

Advertisement