सिंदूरदान से पहले दूल्हे ने देखी दुल्हन का मोबाइल और तोड़ दी शादी, दुल्हन ससुराल के बजाय पहुंच गई जेल,आखिर ऐसा क्या देखा मोबाइल में आइए पढ़ें पूरी खबर:

भारत में शादी को एक पवित्र रिश्ता माना जाता है और शादी के बाद दूल्हा-दुल्हन सात फेरे लेकर एक दूसरे के लिए सात जन्मों का रिश्ता निभाते हैं परंतु कुछ ऐसे कारणों से यह रिश्ता बदनाम होता दिखाई दे रहा है ।
इस घटना को पढ़ने के बाद आपको भी यकीन नहीं होगा ६
जिसको आप जानेंगे तो आप भी हैरान हो जाओगे।
मध्य प्रदेश के फतेहगढ़ पुलिस थाना प्रभारी गजेंद्र सिंह बुंदेला के अनुसार फतेहगढ़ थाना क्षेत्र के कलौरा निवासी 24 वर्षीय माखन धाकड़ शादी नहीं हो रही थी। शादी कराने वाले ने
शादी के लिए 80 हजार रुपए लिए। बात तय होने पर उसने अपने दो साथी हेमंत पाटिलकर व उसके बेटे नवीन पाटिलकर से माखन के परिवार की मुलाकात करवाई।
इसके बाद माखन और नेहा की 28 जून को शादी तय की गई। शादी अशोकनगर में होनी थी। माखन का परिवार 28 को बारात लेकर अशोकनगर के लिए रवाना होने वाला था तो दुल्हन पक्ष के लोगों ने दुल्हन के मामा की मौत की सूचना देकर शादी की तारीख तीन दिन आगे बढ़ा ली। फिर दोनों की शादी एक जुलाई को होनी तय हुई। एक जुलाई को दुल्हन नेहा सात फेरे लेने में आनाकानी कर रही थी। हेमंत व नवीन का उसने अपने अंकल के रूप में परिचय करवाया था। दुल्हन अपने दोनों अंकल के आने के बाद शादी करने की बात कही थी, मगर वे दोनों शाम तक नहीं आए।
पुलिस ने उसके मोबाइल में मिले वीडियो के आधार पर एक युवक से पूछताछ की तो चला कि कुछ समय पहले उससे नेहा ने शादी की थी। फिर नेहा अपने रिश्तेदारों के यहां घूमने का कहकर चली गई है और वापस नहीं लौटी। वहीं, एक अन्य व्यक्ति से भी इसी तरह ठगी की भी सूचना सामने आ रही है। लुटेरी दुल्हन की गैंग में शामिल अन्य लोगों की भी पुलिस तलाश कर रही है।

Advertisement