कोरोना पर सीएम योगी को मायावती की सलाह, जुगाड़ नहीं बल्कि उचित व्यवस्था जरूरी

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस अपना विकराल रूप दिखा रहा है। रोजाना नए नए रिकार्ड बन रहे हैं। यूपी सरकार के कोरोना लड़ाई में इस्तेमाल किए जा रहे सभी उपाय कम पड़ रहे हैं। यूपी में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा बस पचास हजार के पार पहुंचने वाला है। बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्षा मायावती ने कोरोना वायरस पर अपनी चिंता जताते हुए कहाकि केंद्र और यूपी की भाजपा सरकारों को सतर्क होने की जरूरत है। नहीं तो मामला बिगड़ रहा है। कोरोना को मुकाबला सिर्फ जुगाड़ से असंभव है।

बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्षा मायावती ने प्रदेश में कोरोना वायरस पर सरकार को सलाह देते हुए अपने ट्विट पर सोगवार को लिखा कि, आबादी के हिसाब से देश के सबसे बड़े राज्य गरीब व पिछड़े यूपी में कोरोना की महामारी जिस प्रकार से विकराल रूप धारण कर रही है वह गंभीर चिन्ता की बात है। राज्य व केन्द्र सरकार को भी इस बारे में विशेष सचेत होने की जरूरत है। यह जुगाड़ से नहीं बल्कि उचित व्यवस्था से नियंत्रित हो सकता है।

इससे पहले 17 जुलाई को अपने ट्विट में मायावती ने कहा है कि कोरोना बीमारी से रोकथाम के लिए यूपी में बनाये गये सरकारी कोविड केन्द्रों में से अधिकतर वहां पर उचित साफ-सफाई व रख-रखाव आदि के अभाव के कारण कहीं वे बीमारी के नए केन्द्र न बन जाएं, सरकार इस पर भी गंभीरता से ध्यान दे तो यह बेहतर होगा।



Advertisement