चेकिंग के खौफ से मां-बेटी की जान गई, घटना मन को कचोट देगी

लखीमपुर खीरी. कोरोना काल में पुलिस प्रशासन मास्क व हेलमेट के नाम पर लोगों के लिए काल बनी हुई है। आये दिन चेकिंग के नाम पर लोगों प्रताड़ित करने का काम अगर कोई कर रहा तो वह है उत्तर प्रदेश पुलिस, जो जगह-जगह गली मोहल्ले चौराहों पर अपने हमराहियों के साथ खड़े होकर चेकिंग की जा रही ही। दूसरों के लिए साहब मास्क के नाम पर चेकिंग कर खुद के लिए कोई नियम कायदे नहीं है।

एक ऐसा ही मामला तहसील निघासन से सामने आया है, जहां मंगलवार शाम पलिया स्टेट हाइवे पर पुलिस द्वारा चालान किया जा रहा था। पुलिस के खौफ से बाइक सवार गुड्डू पुत्र हरनाम (26 वर्ष) निवासी फरदहिया जो की अपनी 23 वर्षीय पत्नी प्रियांसी को लेकर पिर्थीपुरवा गया था, वहीं लोनियनपुरवा के पास पुलिस चेकिंग कर रही थी। गाड़ी रोकने के चक्कर में ट्रक सवार ने बाइक के टक्कर मारी दी, जिससे बाइक सवार की पत्नी प्रियांसी व छह माह की बेटी की मौके पर मौत हो गई। घटना के बाद लोगों की भीड़ जुट गई है।

सीओ निघासन प्रदीप वर्मा से जब इस बाबत घटना की जानकारी ली गई तो उन्होंने बताया यह एक संयोगवश हुआ हैं। घटनास्थल के कुछ दूरी पर पुलिस चेकिंग कर रही थीं और घटना घट गई। न ही पुलिस ने बाइक सवार को रोका था, जिससे बाइक सवार हड़बड़ा गया हो और घटना हो गई हो। इसे आप इत्तफाक कह सकते हैं, इस घटना से पुलिस का कोई वास्ता नहीं है।



Advertisement