अफगानिस्तान में उपस्थित हिंदू और सिख समुदाय के लोगों को भारत वापस लाने का किया गया फैसला, पढ़ें पूरी खबर:

अफगानिस्तान में उपस्थित हिंदू और सिख समुदाय के लोगों को लेकर भारत सरकार ने एक अहम फैसला लिया है। अफगानिस्तान में उपस्थित हिंदू और सिख समुदाय के प्रताड़ित लोगों को वापस भारत लाने का फैसला किया गया है क्योंकि इन लोगों पर पाकिस्तान का समर्थित आतंकी अपना निशाना बना रहे हैं।
सूत्रों के अनुसार करीब 700 सिखों और हिंदुओं को दिल्ली आने की इजाजत मिलेगी।
भारत सरकार जल्द ही सभी के दिल्ली आने की व्यवस्था करेगी।जिसके बाद सभी को लंबे वक्त के लिए वीजा दिया जा सकता है।
आपको बता दें कि पिछले कुछ समय से सिख नेताओं और हिंदू मूल के नेताओं को अफगानिस्तान में निशाना बनाया जा रहा है।
यहां एक अफगानी सिख नेता को अगवा कर लिया गया था, जिसके बाद से ही सुरक्षा को लेकर चिंता बढ़ गई थीं। अफगानिस्तान में भारत के कई लोग काम के सिलसिले में रहते हैं. ऐसे में पाकिस्तानी समर्थित आतंकी संगठन के लोग उनको निशाना बनाते रहते हैं। इसको लेकर कई बार ऐसे मामले भी सामने आ चुके हैं।
गौरतलब है कि भारत सरकार ने कुछ समय पहले ही नागरिकता संशोधन एक्ट में बदलाव किया था। जिसके बाद पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बांग्लादेश में रह रहे हिन्दू, सिख, जैन, पारसी, ईसाई और बौद्ध मूल के लोगों को भारत में शरण दी जा सकती है। इस एक्ट में बदलाव का देश में काफी विरोध भी हुआ था, हालांकि सरकार अपने फैसले पर कायम रही।

Advertisement