लोकभवन के सामने आत्मदाह करने वाली महिला सोफिया की मौत, बेटी का इलाज जारी

लखनऊ. विधानसभा और लोकभवन के सामने कुछ दिन पहले आत्मदाह का प्रयास करने वाली महिला सोफिया की इलाज के दौरान मौत हो गई। आत्मदाह करने के बाद महिला का इलाज सिविल अस्पताल में चल रहा था। नाली के विवाद में न्याय न मिलने के कारण मां-बेटी ने लोकभवन के सामने कुछ दिन पहले आत्मदाह किया था। बेटी की हालत गम्भीर बनी हुई है और उसका इलाज जारी है। इस मामले में पुलिस एआईएमआईएम के अमेठी जिलाध्यक्ष को गिरफ्तार किया जा चुका है। आरोप के मुताबिक, कांग्रेस और एमआईएमआईएम के नेता ने महिला को लखनऊ में लोकभवन के सामने आत्मदाह के लिए उकसाया था।

दरअसल, अमेठी जिले की एक महिला और उसकी बेटी ने हाल में कुछ दिन पहले लखनऊ के हजरतगंज इलाके में मुख्यमंत्री कार्यालय के बाहर आत्मदाह करने का प्रयास किया था। आत्मदाह के बाद दोनों को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया था। बाद में महिला की इलाज के दौरान मौत हो गई जबकि उसी बेटी की हालत अभी गंभीर बनी हुई है। पीड़ित महिला का आरोप था कि एक महीने से अपनी शिकायत लेकर पुलिस अधिकारियों के पास चक्कर लगा रही थी, लेकिन पुलिस द्वारा उनकी कोई सुनवाई नहीं हो रही थी। रिपोर्ट के मुताबिक महिला ने 9 मई 2020 को अमेठी के जामो में रहने वाले अर्जुन और 3 अन्य के खिलाफ एफआईआर भी दर्ज करवाई थी।

विधानसभा और लोकभवन के सामने आत्मदाह की इस घटना में पुलिस ने 4 लोगों पर मुकदमा दर्ज कर लिया है। पुलिस के मुताबिक इस मामले में अमेठी में एमआईएम जिला अध्यक्ष कदीर खान, अमेठी कांग्रेस के नेता अनूप पटेल का नाम सामने आया है। इसके अलावा आसमां और सुल्तान नाम के दो और लोगों का नाम सामने आया है। पुलिस ने आसमां और कदीर खान को गिरफ्तार कर लिया है और उनसे पूछताछ जारी है। पूछताछ में कुछ जानकारी मिलने के बाद ही आगे की कार्रवाई की जाएगी।



Advertisement