सातवें वेतन आयोग में बड़ा फैसला, इस महीने से सभी कर्मचारियों की आएगी ज्यादा सैलरी:

कुरौना के इस मुश्किल घड़ी में जब सभी व्यक्तियों को अपने आर्थिक अतिथियों में काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है उस स्थिति में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा सभी कर्मचारियों के लिए एक तोहफा खुशी का मिला है सरकार ने सातवें वेतन आयोग की एक बड़ी सिफारिश को अब स्वीकार कर लिया है। इस नई व्यवस्था के मुताबिक केंद्रीय कर्मचारियों को रात में ड्यूटी यानी नाइट ड्यूटी करने पर अलग से अलाउंस दिया जाएगा। अभी तक यह ग्रेड पे के आधार पर दिया जा रहा था। डिपार्टमेंट ऑफ पर्सनल एंड ट्रेनिंग यानी कार्मिक विभाग ने इसे लेकर निर्देश जारी कर दिए हैं। नई व्यवस्था 1 जुलाई से लागू मानी जाएगी। अब तक कर्मचारियों को विशेष ग्रेड पे के आधार पर नाइट ड्यूटी अलाउंस मिल रहा था। नई व्यवस्था के मुताबिक नाइट अलाउंस देने से कर्मचारियों को फायदा होगा और सैलरी बढ़ जाएगी।
नाइट ड्यूटी के दौरान हर घंटे के लिए 10 मिनट का वेटेज दिया जाएगा। सरकार के मुताबिक रात 10 से सुबह 6 बजे तक की गई ड्यूटी को नाइट ड्यूटी माना जाता है। नाइट ड्यूटी अलाउंस के लिए बेसिक पे की सीलिंग 43,600 रुपये प्रति महीने के आधार पर तय की गई है।
नाइट अलाउंस का भुगतान घंटे के आधार पर होगा, जो बेसिक पे और महंगाई भत्ते के कुल योग को 200 से भाग करने के बराबर होगा। बेसिक पे और महंगाई भत्ते का कैल्कुलेशन सातवें वेतन आयोग के आधार पर किया जाएगा। सभी मंत्रालयों और विभागों के कर्मचारियों पर यही फॉर्म्यूला लागू होगा।
सातवें वेतन आयोग को अभी भी देश में पूरी तरह से पालन नहीं हो पाया है। यही कारण है कि सरकार धीरे धीरे इस मामले पर फैसले करती जा रही है। जैसे ही कोई नया फैसला होता है, कर्मचारियों को उसका तुरंत फायदा दिया जाता है। ऐसा ही फैसला नाइट अलाउंस को लेकर हुआ है। इसके बाद अब नाइट ड्यूटी करने वाले कर्मचारियों की पे बढ़ जाएगी। अगस्त से इन कर्मचारियों को बढ़ी हुई पे मिलेगी।

Advertisement