कानपुर में हुए घटना का अनबुझे सी कहानी कर रही है ,सबको हैरान,आखिर क्या यह थी साजिश , पढ़ें विस्तार से:

उत्तर प्रदेश के कानपुर में पुलिस तथा बदमाशों के बीच मुठभेड़ के दौरान 8 पुलिसकर्मी शहीद हो गए तथा 7 पुलिसकर्मी घायल बताए जा रहे हैं।आपको बता दें कि दो पार्टियों के बीच हुए झगड़ों में दबिश जमाने गई पुलिसकर्मियों पर अचानक एक पार्टी के सदस्यों ने गोलीबारी करना शुरू कर दिया जिसके दौरान यह घटना घटी। बता दें कि इस घटना को अंजाम देने वाला मुख्य शख्स विकास दुबे अभी तक फरार बताया जा रहा है तथा पुलिस की टीमें उसको खोजने में पूरी जी जान लगा रही है।
कानपुर एनकाउंटर के बाद से ही यूपी पुलिस में हड़कंप मच गया है और मोस्ट वांटेड चेहरा बने विकास दुबे की तलाश के लिए यूपी पुलिस पूरी रात छापेमारी करती रही, लेकिन पुलिसकर्मियों पर फायरिंग की घटना के बाद से आरोपी दुबे छिपा बैठा है। हालांकि, यूपी पुलिस की 25 से ज्यादा टीम उसकी तलाश में जुटी है, सभी जिलों के स्थानीय पुलिस को भी अलर्ट पर रखा गया है।

जानकारी के मुताबिक, विकास दुबे की कॉल डिटेल से बड़े खुलासे भी सामने आई है और चौंकाने की बात तो यह है की कॉल डिटेल में कुछ पुलिसवालों के नंबर भी सामने आए, जो बेहद हैरान करने वाला तथ्य है। जांच के दौरान यह खुलासा हुआ है कि, चौबेपुर थाने के ही एक दारोगा ने विकास दुबे को पुलिस के आने की जानकारी पहले ही दे दी थी। इस वक्त पुलिस के शक के घेरे में एक दारोगा, एक सिपाही और एक होमगार्ड है, तीनों की कॉल डिटेल के आधार पर पुलिस उनसे पूछताछ कर रही है।

बता दे कि, कानपुर में दबिश देने गई पुलिस की एक टीम पर बदमाशों ने अंधाधुंध गोलियां चलाकर बड़ा हमला बोला था।

Advertisement