विकास के मामा ने कहा बीस साल पहले ही हो जाना था विकास का एनकाउंटर राजनीतिक गन्दगी है इन लाशों की जिम्मेदार

 कुख्यात अपराधी विकास के मुठभेड़ में मारे जाने पर विकास दूबे के मामा ने सीधे सीध सफेदपोश राजनेताओं पर हमला करते हुए उन्हें मौतों का जिम्मेदार बताया है।  विकास के मामा प्रेमरंजन की बहु ने कहा की "नेता लोग बच गए लेकिन इनके लिए काम करने वाले लोग मारे जा रहे हैं।" विकास के मामा ने कहा की 2001  में हुए संतोष शुक्ल हत्याकांड के बाद ही विकास का एनकाउंटर हो जाता तो इतनी लाशे न गिरतीं।  प्रेमप्रकाश की बहु मनु का कहना है की विकास की वजह से घर में अब तक दो मौतें हो चुकी हैं मेरे पति को पुलिस पूछताछ के लिए उठा कर ले गई थी लेकिन वे अभी तक घर नहीं आये वे कहाँ हैं किसी को कुछ नहीं पता।  2001 में हुए संतोष शुक्ल हत्याकांड में भी विकास के साथ उनका (ससुर प्रेमप्रकाश) का नाम सामने आया था। मेरे पति 14 साल से साबुन की कंपनी में काम करते थे और कानपुर रहते थे। 

Advertisement