भारत से बौखलाए चीन ने किया ऐसा काम, जिसे सारी दुनिया कर रही है चीन से नफ़रत, पढ़े विस्तार से:

भारत और चीन के बीच लगातार तनाव बढ़ता ही जा रहा है आपको बता दें कि पूर्वी लगाके गलवान घाटी पर हुए भारत और चीन के बीच हिंसक झड़प के बाद दोनों देशों में उच्च स्तरीय बैठक लगातार बनती जा रही है परंतु इससे दोनों देशों में किसी भी प्रकार की सहमति नहीं पनप रही है। कोरोना का जन्मदाता चीन से पहले ही संयुक्त राष्ट्र अमेरिका पूरी तरह से प्रभावित है तथा इसका पूरा दोष चीन को देता रहा है।
इसके बाद बता दें कि अमरीका ने चाइना के विरूद्ध बड़ी कार्रवाई करते हुए उइगुर मुस्लिमों के मानवाधिकार उल्लंघन  को लेकर जिन तीन अधिकारियों पर प्रतिबंध लगाया है । शिनजियांग उइगर स्वायत्त क्षेत्र ( XUAR ) के चीनी कम्युनिस्ट पार्टी सचिव चेन क्वांगो, शिनजियांग पोलिटिकल व लीगल कमेटी के सचिव झू हैलून व शिनजियांग पब्लिक सिक्योरिटी ब्यूरो के वर्तमान पार्टी सचिव वैंग मिंगशान शामिल हैं। इनके अतिरिक्त अब इनके परिवार के मेम्बर भी अमरीका में प्रवेश के लिए अयोग्य हो गए हैं।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, इस मुद्दे पर चाइना विफर गया है व पलटवार करते हुए अमरीका के इस नए प्रतिबंधों को आपसी संबंध (  के लिए हानिकारक करार दिया है।

चाइना ने साफ-साफ बोला कि अमरीका के विरूद्ध बहुत जल्द ही वह ‘पारस्परिक उपाय’ करेगा।

अमरीका व चाइना के बीच विवाद की स्थिति अब बहुत ज्यादा गहरा गया है। बीते कई दिनों से चाइना के विरूद्ध कड़ी कार्रवाई करने की बात कर रहे अमरीका ने शुक्रवार को चीनी अधिकारियों पर प्रतिबंध लगा दिया। अमरीका के इस कदम से चाइना बौखला गया है। चाइना ने बोला है कि अमरीका के इस निर्णय के विरूद्ध वह जल्द ही पारस्परिक तरीका करेगा।

Advertisement