कानपुर में हुए मुठभेड़ का हुआ खुलासा, एक ही नहीं कई पुलिसकर्मियों के साथ जुड़ा है बदमाश विकास दुबे का साथ:

उत्तर प्रदेश के कानपुर में हुए पुलिस तथा बदमाशों के बीच मुठभेड़ में 8 पुलिसकर्मी शहीद हो गए तथा सात पुलिसकर्मियों को जख्मी बताया जा रहा है।आपको बता दें कि इस घटना के पश्चात जांच के दौरान जुटी पुलिस को नई-नई सबूत मिल रही है जिसके आधार पर बदमाश विकास दुबे का साथ कई पुलिसकर्मियों ने दिया जिसके दौरान इस घटना को अंजाम दिया गया। एक दरोगा के साथ दो पुलिसकर्मियों का भी संबंध जुड़ा है विकास दुबे से।मुठभेड़ के दौरान विकास दुबे का एड्रेस करने के बावजूद पता चला कि उस रात को उसने ऐसो विनय तिवारी से बात की थी जिसके दौरान विनय तिवारी को निलंबित कर दिया गया है।मिली जानकारी के मुताबिक यह पता चला है कि सिर्फ बीजेपी वाले ही नहीं बल्कि कई पुलिसकर्मी भी विकास दुबे के संपर्क में जुड़े थे।
पांच महीने पहले चौबेपुर के जरारी गांव में तत्कालीन सीओ बिल्हौर देवेंद्र मिश्र ने लाखों रुपये का जुआ पकड़ा था। इस मामले में उन्होंने तत्कालीन एसएसपी को रिपोर्ट भेजी थी। इसमें बताया था कि जुआ थानेदार के संरक्षण में चलता है। उसे हर महीने मोटी रकम पहुंचती है। एसएसपी ने रिपोर्ट पर कोई कार्रवाई नहीं की। तभी से सीओ और एसओ के बीच अनबन शुरू हो गई थी।

Advertisement