मोदीनगर दुर्घटना: बेखौफ चला रहा है अवैध फैक्ट्रियों का कारोबार, जान कर भी अनजान बना रहा स्थानीय प्रशासन

मोदीनगर अग्निकांड की जांच के बाद अब पुलिस और स्थानीय प्रशासन के ऊपर सवाल खड़े होने शुरू हो गए है । पुलिस की सरपरस्ती से ये अवैध कारखाना विगत एक वर्ष से चल रहा था लेकिन तहसील प्रशासन को कोई परवाह नहीं थी या फिर प्रशासन जान के भी अनजान बन रहा था।बीते दिवाली के पर्व में एनजीटी के सख्त रवैए को देखते हुए जांच अभियान चलाया गया और लोनी से भारी मात्रा में पटाखे व ज्वलनशील पदार्थ भी बरामद किया गया था लेकिन इस कारखाने पर लोनी तहसील द्वारा कोई कार्रवाई नहीं की गई थी। फैक्टरी में औपचारिक और सुरक्षा को लेकर बने नियमों कानूनों का पूरी तरह उल्लंघन हो रहा था लेकिन स्थानीय प्रशासन अनजान बना रहा। फैक्टरी से परेशान स्थानीय लोगों ने भी संबंधित विभागों में शिकायत की लेकिन उन शिकायतों पर कोई सुनवाई नहीं हुई।

Advertisement