मुख्यमंत्री योगी का अब मुख्तार अंसारी पर निशाना, अब मुख्तार अंसारी के काले साम्राज्य का हो जाएगा सफाया, पढ़े विस्तार से:

उत्तर प्रदेश में शांति व्यवस्था बनाने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश में फैले चारों बदमाशों का सफाया करने का निर्णय ले लिया है।उनके द्वारा महज 3 साल के अंदर 122 बदमाशों का एनकाउंटर तथा कम से कम 15000 से ज्यादा अपराधी जेल के अंदर पहुंच चुके हैं। परंतु आपको बता दें कि निश्चित तौर पर उन्होंने योगी आदित्यनाथ के भी बयानों को उसी तरह से हल्के में लेने का दुस्साहस किया होगा अब उनकी निश्चित तौर पर बहुत बड़ी भूल साबित हो रही है। अपराध और अपराधी का ना तो कद देखा जा रहा है और ना ही उसका पद। जो भी कानून तोड़ रहा है कानून उसको कहीं ना कहीं से पलट कर तोड़ रहा है। उदाहरण के लिए मुख्तार अंसारी का आर्थिक साम्राज्य। जिन मुख्तार अंसारी की तूती बोला करती थी और जो मुख्तार अंसारी मुख्यमंत्री के बगल मंचो पर दिखाई देते थे उनको यह दिन देखने पड़ेंगे निश्चित तौर पर उन्होंने सोचा भी नहीं रहा होगा।
गाजीपुर माफिया से माननीय बने मुख्‍तार अंसारी के आर्थिक साम्राज्‍य और गिरोह के लोगों पर पुलिस शिकंजा लगातार कसता जा रहा है। पुलिस ने अब तक मुख्‍तार अंसारी के आर्थिक साम्राज्‍य के खिलाफ कार्रवाई के क्रम में करीब 40 करोड़ रुपये की सरकारी जमीन जो अवैध कब्‍जे में थी उसे मुक्‍त कराया। इसके अलावा उनके सहयोगियो व रिश्‍तेदारों के 29 शस्‍त्र लाइसेंस निलंबित कराकर उन्‍हें विभिन्‍न थानो में जमा करा दिया गया है।

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि मुख्‍तार अंसारी के सक्रिय सदस्‍य भीम सिंह एवं रिश्‍तेदार राहुल सिंह द्वारा अंधऊ एयरपोर्ट पर सरकारी जमीन करीब 36 करोड़ 50 लाख का मुक्‍त कराया गया। इसके बाद विकास कान्‍सट्रक्‍शन फतेउल्‍लाहपुर गाजीपुर द्वारा अवैध रूप से सरकारी जमीन करीब 2 करोड़ 80 लाख रुपये की संपत्ति को मुक्‍त कराया गया है। महेंन में नन्‍हे खां द्वारा मगई नदी पर बनाये गये पुल को ध्‍वस्‍त करते हुए दो मंडा जमीन, एक बोलेरो को सीज करते हुए करीब 53 लाख रुपये की संपत्ति मुक्‍त करायी गयी।

एसपी ने बताया कि शासन के निर्देश पर माफियाओं के खिलाफ चलाये जा रहें अभियान के क्रम में जनपद स्‍तर पर चिन्हित माफियाओें, भू-माफियाओं, गोतश्‍कर, शराब माफिया, अपराधिक माफिया, मुख्‍तार अंसारी, त्रिभुवन सिंह, गोरा राय, अमित राय, करमवीर सिंह उर्फ सोनू, महेंद्र जायसवाल, गोल्‍डेन उर्फ इम्तियाज, पारस सिंह कुशवाहा, सुभाष यादव, विनय पांडेय, अफरोज खान उर्फ चुन्‍नू, आदि के खिलाफ अनवरत कार्रवाई की जा रही है।

Advertisement