हांगकांग के बाजार से भी बाहर होने की है टिकटॉक की तैयारी

भारत से भगाये जाने के बाद टिक टॉक अब हांगकांग से भी भागने की  तैयारी कर रहा है टिकटॉक  के प्रवक्ता के अनुसार टिकटॉक कुछ दिनों में ही हांगकांग के बाजार से बाहर का रास्ता देखेगा और उसी रास्ते पर कदम बढ़ाते हुए हांगकांग के लोगों का बहुत सारा समय ख़राब होने से बचाएगा टिकटॉक के प्रवक्ता ने ये जानकारी सोमवार की शाम को सार्वजनिक की।  चीनी कंपनी बाइटडांस के स्वामित्व वाली टिकटॉक के इस फैसले की बड़ी वजह हांगकांग में लागू होने वाला नया राष्ट्रीय सुरक्षा कानून भी है. बताते चलें की कंपनी का सञ्चालन पूर्व वाल्ट डिज्नी के सह कार्यकारी केविन मेयर करते है।  टिकटॉक ने पहले  भी ये स्पष्ट कर दिया था की चीन द्वारा किये गए टिकटॉक उपयोगकर्ताओं की कोई भी जानकारी में पहुँच के लिए सारे सरकारी अनुरोधों का अनुपालन नहीं करेगा। साथ ही प्रवक्ता ने बताया की टिकटॉक को इस तरह से डिज़ाइन किया गया है की वो चीन से संचालित न किया जा सके।  ऐसा इसलिए किया गया क्यों की टिकटॉक  वैश्विक स्तर पर लोगों को आकर्षित करना चाहता था।  सूत्रों के अनुसार टिकटॉक हांगकांग में टिकटॉक  के 150000  उपयोगकर्ता हैं और हांगकांग टिकटॉक के लिए एक तरह से घाटे वाला बज़ार है  इसीलिए टिकटॉक  वहां से अपना बोरिया बिस्तर समेट रहा है। 

Advertisement