कानपुर प्रकरण के बाद इन कुख्यातों के घर पर पुलिस की दबिश, भारी मात्रा में हथियार बरामद

मेरठ। कानपुर में हुए दुबे प्रकरण के बाद पश्चिम उप्र के कुख्यात बदमाशों पर पुलिस ने शिकंजा कस दिया है। इस कड़ी में मेरठ पुलिस ने जिले के कुख्यातों के घर ताबड़तोड़ दबिश डालते हुए भारी मात्रा में अवैध हथियार बरामद किए। सोमवार को रोहटा, सरूरपुर थाना क्षेत्रों में पुलिस और एसटीएफ ने भदौड़ा गांव में योगेश भदौड़ा और करनावल गांव में उधम सिंह के घर दबिश दी।

यह भी पढ़ें: सपा सांसद के बयान पर बोले भाजपा विधायक संगीत सोम, 'यह उनकी खाला की सरकार नहीं है'

दोनों ही कुख्यात बदमाश इस समय जेल में बंद हैं। दोनों के घर से भारी मात्रा में अवैध असलाह बरामद हुए। दबिश के दौरान गांवों में भगदड़ मच गई और ग्रामीणों ने अपने को घरों के भीतर बंद कर लिया। भदौड़ा गांव में ही सुशील फौजी और करनावल गांव में बदमाश लीलू के घर पर छापा मारा गया। इस दौरान विरोध होने पर पुलिस ने सख्ती दिखाते हुए तलाशी ली।

बता दें कि उधम सिंह करनावल और योगेश भदौड़ा जिले की टॉप-10 सूची में शामिल हैं। ये दोनों पश्चिम उप्र के बड़े बदमाशों में शामिल हैं। पांच दिन रोहटा क्षेत्र में पुलिस ने मुठभेड़ में 50 हजार के इनामी दीपक सिद्धू को ढेर किया था। पुलिस को सूचना मिली थी कि दीपक सिद्धू का साथी उधम सिंह करनावल के घर पर गया था। इस सूचना पर पुलिस ने काम किया। सोमवार को पुलिस फोर्स के साथ अधिकारियों ने भदौड़ा गांव में योगेश भदौड़ा और सुशील फौजी के घर दबिश दी। इस दौरान योगेश के बंद पड़े घर की तलाशी ली गई, जहां से भारी मात्रा में अवैध असलहे बरामद हुए। इसके बाद करनावल गांव में उधम सिंह के घर पर दबिश दी। यहां से भी काफी मात्रा में अवैध तमंचे, बंदूक बरामद हुईं।

यह भी पढ़ें: प्रधान के चुनाव को लेकर प्रत्याशी ने बांटा जहर का जाम, दो की मौत, कई की हालत गंभीर

सुशील फौजी के घर पर दबिश में दिल्ली नंबर की संदिग्ध बाइक बरामद हुई। जिस पर सुशील फौजी के भाई नरेश को गिरफ्तार कर लिया गया। करनावल गांव में लीलू के घर से भी अवैध हथियार मिले। लीलू फरार बताया गया। वहीं, उधम सिंह की मां ने पुलिस की दबिश का विरोध किया। आरोप लगाया कि पुलिस ने खुद ही उनके घर पर पहले असलहे रखे और फिर उनकी बरामदगी दिखा दी। इस बारे में एसएसपी अजय साहनी ने बताया कि दबिश के दौरान अवैध असलाह बरामद हुए हैं। जिस पर आरोपियों के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि आगे भी अन्य बदमाशों पर इसी तरह की कार्रवाई की जाएगी।



Advertisement