लॉकडाउन में छूट गई नौकरी तो पति ने पत्नी के साथ मिलकर बना डाला गैंग

मेरठ. लॉकडाउन के दौरान नौकरी से निकाले जाने से क्षुब्ध एक युवक ने अपनी पत्नी के साथ मिलकर खुद का लूट गैंग बना लिया और फैक्ट्री मालिक के घर को निशाना बनाते हुए लाखों के जेवरात और नकदी लूटकर फरार हो गए। बताया जा रहा है कि आरोपी पत्नी के साथ नगर क्षेत्र में किराए के मकान में रह रहा था। पत्नी लोगों को निशाना बनाती थी और पति लूट करता था। लुटेरे दंपती ने लॉकडाउन के दौरान ही अपना गैंग बना लिया और दिल्ली तक घटना को अंजाम देने लगे। दिल्ली के गांधी नगर में दंपती ने फैक्ट्री मालिक के घर पर लूट की घटना को अंजाम दिया। दिल्ली पुलिस ने मोबाइल लोकेशन के आधार पर युवक को पत्नी समेत गिरफ्तार कर लिया है। साथ ही सामान भी बरामद किया है। पूछताछ के बाद पुलिस दंपती को दिल्ली ले गई है।

यह भी पढ़ें- 50 हजार का कुख्यात बदमाश भदौड़ा गैंग का दीपक सिद्धू एनकाउंटर में ढेर, एक दरोगा को भी लगी गोली

गांधी नगर दिल्ली थाने के सब इंस्पेक्टर मनीष कुमार टीम के साथ मवाना थाने पहुंचे। मनीष कुमार ने बताया कि लॉकडाउन के दौरान फैक्ट्री से निकाले जाने के बाद अगवानपुर निवासी दीपक ने अपनी पत्नी के साथ मिलकर लूटपाट करनी शुरू कर दी। इसके बाद उसने कुछ और साथियों के अपने साथ मिला लिया। इसके बाद ये लोग लूट की वारदात को अंजाम देने लगे। ऐसे ही लूट की एक प्लानिंग गांधी नगर इलाके में बनाई गई। प्लानिंग के तहत आरोपी ने अपने फैक्ट्री मालिक के घर को निशाना बनाया।

वारदात के दिन फैक्ट्री मालिक की पत्नी घर पर अकेली थी, जिसका फायदा उठाते हुए पहले अरोपी की पत्नी घर के भीतर दाखिल हुई। इसके बाद आरोपियों ने चाकू के बल पर सोने-चांदी के जेवरात और हजारों की नगदी लूट कर फरार हो गए। लूट को अंजाम देने के बाद दीपक अपनी पत्नी के साथ नगर क्षेत्र में किराये का मकान लेकर रहने लगा। घटना में शामिल अन्य दो बदमाशों को दिल्ली पुलिस ने पहले ही दबोच चुकी है। मोबाइल लोकेशन के आधार पर दिल्ली पुलिस मवाना पहुंची। पुलिस दंपति को गिरफ्तार कर दिल्ली रवाना हो गई।

यह भी पढ़ें- मेरठ की छोरी ने मजबूत की साउदी अरब के शेखों की रोग प्रतिरोधक क्षमता



Advertisement