उन्नाव सदर विधायक का धरना, बोले - इनके मन में भ्रांति है कि UP में सपा का शासन

उन्नाव. वाहन चेकिंग के नाम पर पुलिस की भूमिका पर लगातार सवाल उठ रहे थे। ₹500 न देने पर बाइक चालकों का चालान लगातार चल रहा था। लेकिन भाजपा पदाधिकारी को भी पुलिस द्वारा ₹500 न देने पर चालान कर देने के बाद मामला तूल पकड़ा। एसपी ने आरोपी चौकी इंचार्ज का स्थानांतरण कर मामला दबाने का प्रयास किया। लेकिन एक के बाद एक घट रही घटनाओं से आक्रोशित सदर विधायक पंकज गुप्ता सदर कोतवाली पहुंचकर धरने पर बैठ गए। जहां उन्होंने पुलिस के खिलाफ जमकर बयानबाजी की। बोले सपा मानसिकता के अनुरूप उन्नाव पुलिस काम कर रही है।

उन्नाव पुलिस के निरंकुश कार्यप्रणाली के खिलाफ सदर विधायक पंकज गुप्ता सदर कोतवाली में परिसर में धरने पर बैठ गए। उन्नाव पुलिस वाहन और दुकान चेकिंग के नाम पर अवैध वसूली वह डकैती डाल रही है। उन्होंने कहा कि बुजुर्ग के खिलाफ गलत कार्रवाई पर उन्होंने क्षेत्राधिकारी नगर से बातचीत कर निष्पक्ष कार्रवाई करने की मांग की थी लेकिन पुलिस ने रात में 1:02 बजे विधायक से बातचीत होने के बाद 110 पर अभियोग पंजीकृत कर दिया जिससे आक्रोशित सदर विधायक पंकज गुप्ता सदर कोतवाली पहुंच गए उन्होंने कहा कि उन्नाव पुलिस कार्यकर्ताओं और आदमियों के साथ वाहन चेकिंग के नाम पर गलत व्यवहार व शोषण कर रही है। उन्होंने स्वयं व पूर्व भाजपा जिला अध्यक्ष श्रीकांत कटिहार से भी अभद्रता के आरोप लगाए।

सदर विधायक द्वारा धरने पर बैठे जाने की खबर सुनकर मौके पर क्षेत्राधिकारी नगर यादवेंद्र यादव देर रात 1:15 बजे पहुंचे इसके बाद मौके पर अधिकारियों का आने का क्रम बना रहा 6:30 बजे जिलाधिकारी रविंद्र कुमार व पुलिस अधीक्षक रोहन पी करें मौके पर पहुंचे जिलाधिकारी ने सदर विधायक पंकज गुप्ता से बातचीत कर धरना खत्म कराया इस मौके पर जिलाधिकारी ने कहा कि प्रस्तावित महिला थाने पर अवैध कब्जे का मामला था जिसमें कुछ लोगों को गिरफ्तार कर लाया गया था सदर विधायक द्वारा उनके साथ मारपीट का आरोप लगाया गया है लिखित शिकायत पत्र लेकर जांच का आश्वासन दिया है निष्पक्ष कार्रवाई होगी।



Advertisement