बीएचयू प्रवेश परीक्षा के लिए 202 शहरों में बनाए गए ऑनलाइन सेंटर, दो पालियों में होगी परीक्षा

वाराणसी. बीएचयू की प्रवेश परीक्षा विश्वविद्यालय अनुदान आयोग की गाइड लाइन के मुताबिक होगी। इसके लिए 202 शहरों में ऑनलाइन सेंटर बनाए जा रहे हैं। कोरोना काल में हो रही परीक्षा के लिए प्रवेशार्थियों को सहमति पत्र भरकर देना होगा। विश्वविद्यालय की प्रवेश परीक्षा 24 अगस्त से शुरू होगी। प्रवेश परीक्षाओं के लिए विश्वविद्यालय की ओर से पर्यवेक्षक नियुक्त किए गए हैं। विभिन्न शहरों में में बने केंद्रों पर इनकी ड्यूटी लगेगी। पर्यवेक्षकों को सेंटरों पर भेजने की तैयारियों जोरों से चल रही हैं। ताकि उन्हें किसी प्रकार की कोई परेशानी न हो।

दो पालियों में होगी प्रवेश परीक्षा

यह प्रवेश परीक्षा दो चरणों में आयोजित की जाएगी। प्रथम चरण की परीक्षाएं 24 अगस्त से 31 अगस्त तक होंगी। इसमें सभी स्नातकोत्तर पाठ्यक्रमों तथा स्नातक स्तर के एलएलबी, बीएड, बीएड स्पेशल एजुकेशन तथा बीपीएड, बीएफए व बीपीए पाठ्यक्रमों की परीक्षाए होंगी। दूसरे चरण की परीक्षाएं नौ, 10, 11 और 14 सितम्बर को होगी। इसमें बीए आर्ट्स, बीए सोशल साइंस, बीकॉम, बीएससी एजी, बीए एलएलबी, बीएससी मैथ, बीएससी (ऑनर्स) बायो, शास्त्री तथा बीवोक की परीक्षा होगी।

सावधानी के साथ होगी परीक्षा

बीएचयू में स्नातक के 25 और स्नातकोतर के 131 पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिए 30 जनवरी से 12 मार्च तक ऑनलाइन आवेदन मांगे गए थे। इसमें देशभर से करीब सवा पांच लाख अभ्यर्थियों ने आवेदन किया है। बीएचयू के उप परीक्षा नियंत्रक डॉ. एमआर पाठक ने बताया कि प्रवेश परीक्षा की तैयारियां चल रही हैं। यूजीसी की गाइडलाइन के अनुपालन में कोविड-19 की सावधानी के साथ परीक्षा होगी।



Advertisement